नई दिल्ली. आस्था का पावन पर्व छठ ( Chhath Puja ) आने को है. इस पर्व की विशेष मान्यता है, यह पर्व 8 नवंबर से शुरू होगा. छठ के पर्व को लेकर बीते दिनों डीडीएमए ने एक आदेश के तहत छठ के सार्वजनिक आयोजन को मंजूरी दे दी थी, लेकिन अब डीडीएमए एक आदेश में कहा गया कि श्रद्धालु छठ का पर्व मना तो पाएंगे लेकिन सिर्फ 6 घाटों पर. राज्य सरकार द्वारा चिन्हित 6 घाटों पर ही छठ का पर्व मनाया जाएगा.

छठ पूजा में कोरोना दिशा निर्देशों का करना होगा पालन

आस्था का पर्व छठ आने को है, ऐसे में धूम धाम से छठ की तैयारियां शुरू हो गई हैं. डीडीएमए की बैठक के बाद छठ पूजा को लेकर यह आदेश जारी किया गया कि यमुना नदी के किनारे छठ पूजा का आयोजन नहीं किया जाएगा. श्रद्धालु यमुना के किनारे छठ नहीं मना पाएंगे. डीडीएमए ने कहा कि कोरोना प्रोटोकॉल्स का पालन करते हुए ही श्रद्धालु दिल्ली सरकार द्वारा चयनित घाटों पर छठ का पर्व मना पाएंगे.

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि, “दिल्ली के हालात बाकी राज्यों के मुकाबले बेहतर हैं, ऐसे में तयशुदा घाटों पर कोरोना प्रोटोकॉल्स का पालन करते हुए ही छठ पूजा का सार्वजनिक आयोजन किया जाएगा, यमुना के किनारे छठ का सार्वजनिक आयोजन नहीं किया जाएगा.

डीसीपी को कोरोना निर्देशों के सख्त पालन करवाने की हिदायत

छठ पूजा को लेकर सभी जिलों के डीसीपी को यह सुनिश्चित करने को कहा गया है कि पूजा से जुड़ी किसी भी सामग्री को या अन्य कोई भी समान यमुना में प्रवाहित न किया जाए, साथ ही ये भी सुनिश्चित किया जाए कि ऐसी कोई भी सामग्री यमुना की मुख्य धारा में जाकर न मिले.

यह भी पढ़ें :

Aryan Khan Drugs Case: जूही चावला ने ली आर्यन की जमानत, बोलीं- बचपन से देखा है

Leander Paes Join TMC टेनिस कोर्ट में परचम लहराने के बाद अब टीएमसी का झंडा बुलंद करेंगे लिएंडर पेस

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर