नई दिल्ली. छठ पर्व की बहुत अधिक मान्यता है. छठ का महापर्व 11 नवंबर से शुरु हो गया है. छठ पर्व चार दिन तक चलेगा. इस त्योहार का महत्व बेहद अधिक है, आप इस बात से अंदाजा लगा सकते हैं कि एक व्यक्ति को छठ पर्व पर छुट्टी नहीं मिली तो उन्होंने अपनी नौकरी से इस्तीफा दे दिया. जहां आज के समय में जॉब और नौकरी के लिए लोग परेशान हैं वहीं दूसरी तरफ छठ पर्व में हिस्सा लेने के लिए रोहित आनंद ने नौकरी से रिजाइन दे दिया.

दरअसल सारण जिले के दिघवारा प्रखंड के त्रिलोचक गांव के रहने वाले रोहित आनंद नोएडा में PAYTM (पेएटीएम) कंपनी में बतौर इंजीनियर कार्य कर रहे थे. इस बार छठ पर्व के अवसर पर उन्होंने घर जाने के लिए कंपनी के मैनेजर को मेल किया. लेकिन कंपनी के मैनेजर ने रोहित आनंद को छुट्टी देने से इंकार कर दिया.

जिसके बाद रोहित आनंद को इस बार की जानकारी मिली की उनकी छुट्टी कैंसिल कर दी गई है. उन्होंने तत्काल प्रभाव से इस्तीफा दे दिया. रोहित आनंद की तनख्वाह 1.60 लाख रुपए थी. जैसे ही ये बात ऑफिस के साथ कर्मचारियों और बाकि लोगों को पता चली सब यह बात जानकर हैरान रह गये. जैसे ही रोहित ने ये बाद अपने घऱ वालों को बताई तो उन्होंने भी उनका साथ दिया. और कहा कि चलो अच्छी बात है सब मिलकर छठ पर्व एक साथ मनाएंगे.

रोहित आनंद के करिबियों का कहना है कि वह हमेशा से परिवार से साथ छठ मनाते आये हैं. उनके जीवन में कभी ऐसा अवसर नहीं रहा जब उन्होंने परिवार के साथ छठ पर्व न मनाया हो. रोहित के माता-पिता का कहना है कि उन्हें अपने बेटे की योग्यता पर पूर्ण विश्वास है वह आज नहीं तो कल दूसरी नौकरी तलाश लेगा.

Chhath Puja Kharna Shubh Muhurat: शाम 6:45 से रात 9:55 तक है खरना का शुभ मुहूर्त, इसके बाद शुरू होगा 36 घंटे का निर्जला व्रत

Chhath Puja 2018: कैसे शुरू हुई छठ पूजा, क्यों मनाते हैं ये महापर्व, इसका इतिहास और महत्व जान रह जाएंगे दंग

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App