देहरादून, चार धाम की यात्रा इस साल बस शुरू ही होने जा रही है. इस बीच चारधाम यात्रा में समस्त तीर्थ जो उच्च हिमालयी क्षेत्र पर मौजूद हैं, को लेकर यात्रियों के लिए स्वास्थ्य संबंधित दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं. बता दें, यह यात्रा कई चरणों से होकर गुज़रती है जहां अत्यधिक ठण्ड, कम आद्रता, अत्यधिक अल्ट्रा वॉयलेट रेडिएशन, कम हवा का दबाव और कम ऑक्सीजन की मात्रा से यात्रियों पर भी प्रभाव पड़ता है. इसी प्रभाव को कम करने उत्तराखंड सरकार हर वर्ष श्रद्धालुओं के लिए स्वास्थ्य संबंधित दिशा निर्देश को जारी करती है.

क्या है इस साल के नियम?

इस बार जारी एडवाइज़री में उत्तराखंड सरकार द्वारा श्रद्धालुओं से अनुरोध किया गया है सभी यात्रा करने वाले लोग पहले स्वास्थ्य परीक्षण करवाएं उसके उपरांत ही यात्रा के लिए प्रस्थान करें. इसके अलावा पहले से बीमार व्यक्तियों को इस यात्रा में शामिल होने के लिए चिकित्सक का परामर्श पर्चा एवं चिकित्सक का संपर्क नंबर एवं चिकित्सक द्वारा लिखी गयी दवाईयां अपने साथ रखने की हिदायत दी गई है. इन दिशा निर्देशों में अति वृद्ध एवं बीमार व्यक्तियों, कभी कोरोना के सम्पर्क में आये व्यक्तियों को यात्रा को कुछ समय के लिए स्थगित करने की सलाह भी दी गई है. इसके अलावा तीर्थ स्थल पहुंचने के एक दिन पूर्व पूर्ण विश्राम भी करने की हिदायत है.

इन बातों का भी रखें ध्यान

स्वास्थ्य संबंधित दिशा निर्देश में गर्म एवं ऊनी वस्त्रों को भी साथ में अवश्य रखने के लिए कहा गया है. हृदय रोग, श्वांस रोग, मधुमेह, उच्च रक्तचाप से संबंधित रोगी ऊंचाई वाले क्षेत्रों में जाते समय विशेष सावधानी बरतें. साथ ही सिर दर्द होना, चक्कर आना, घबराहट का होना, दिल की धड़कन तेज होना, उल्टी आना, हाथ-पांव व होठों का नीला पड़ना, थकान होना, सांस फूलना, खाँसी होना अथवा अन्य लक्षण होने पर निकटतम स्वास्थ्य केंद्र जाने की सलाह दी गई है. स्वास्थ्य इमरजेंसी के लिए 104 हेल्पलाइन नंबर भी दिया गया है.

इन पदार्थों के सेवन से परहेज करें

दिशा निर्देश का पालन करते हुए यात्रियों को सनस्क्रीन SPF 50 का उपयोग करने की भी सलाह दी गई है. जिससे वह धूप से अपना बचाव कर सकें. इसके अलावा धुप से बचने के लिए आखों पर सन ग्लासेस लगाने की भी हिदायत है. यात्रा के दौरान पानी पीने और खाना खाने की सलाह है अर्थात ये यात्रा भूखे पेट और प्यासे रहकर नहीं करनी है. यात्रा पैदल है तो बीच-बीच में विश्राम करें. ऊंचाई वाले क्षेत्रों में व्यायाम से बचें.

यह भी पढ़ें:

Delhi-NCR में बढ़े कोरोना के केस, अध्यापक-छात्र सब कोरोना की चपेट में, कहीं ये चौथी लहर का संकेत तो नहीं

IPL 2022 Playoff Matches: ईडन गार्डन्स में हो सकते हैं आईपीएल 2022 के प्लेऑफ मुकाबले, अहमदाबाद में होगा फाइनल

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर