ओडिशा: ओडिशा सरकार ने किया स्कूल का समय बदलाव: देशभर में चिलचिलाती गर्मी और आसमान से बरस रही आग के कारण लोगों की हालत दयनीय है. गर्मी को देखते हुए ओडिशा सरकार ने स्कूलों के समय में बदलाव करने का फैसला किया है. अब स्कूलों में सुबह छह बजे से नौ बजे तक पढ़ाई होगी और सरकार का यह आदेश आज से ही लागू हो गया है. हालांकि राहत की बात यह है कि दिल्ली-यूपी समेत उत्तर-पश्चिमी राज्यों में लोगों को लू से राहत मिलेगी. मौसम विभाग का कहना है कि पश्चिमी विक्षोभ की ताजा स्थिति ने रविवार को लू का सामना कर रहे उत्तर-पश्चिमी भारत को राहत दी है. हालांकि, मध्य भारत और पश्चिमी राजस्थान में भीषण गर्मी जारी रहने की संभावना है।

अगले पांच दिनों के लिए राहत

पश्चिमी विक्षोभ के कारण दोपहर दक्षिण हरियाणा और पूर्वी राजस्थान में बारिश से लोगों को गर्मी से राहत मिली. ईएमडी वैज्ञानिक आरके जेनामणि के मुताबिक, अगले पांच दिनों तक देश के ज्यादातर हिस्सों में लू चलने की संभावना नहीं है. जेनामनी ने कहा कि पश्चिमी राजस्थान और महाराष्ट्र के विदर्भ के कुछ हिस्सों को छोड़कर अगले पांच दिनों तक देश के किसी भी हिस्से में लू चलने की कोई संभावना नहीं है।

पश्चिमी राजस्थान के कुछ हिस्सों में भी रविवार को भीषण गर्मी देखी गई, जिसमें बीकानेर में पारा 47.1 डिग्री सेल्सियस, गंगानगर में 46.9 डिग्री सेल्सियस, बाड़मेर में 46.8 डिग्री सेल्सियस और फलोदी में 46.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। महाराष्ट्र के विदर्भ क्षेत्र में ब्रम्हापुरी (46.2 डिग्री सेल्सियस) और चंद्रपुर (46 डिग्री सेल्सियस), और नागांव (45.5 डिग्री सेल्सियस), राजगढ़ (45.4 डिग्री सेल्सियस) और खजुराहो (45.4 डिग्री सेल्सियस) में भी भीषण गर्मी का सामना करना पड़ा।

आईएमडी ने एक बयान में कहा, “अगले दो दिनों के दौरान उत्तर पश्चिम भारत के कई हिस्सों में अधिकतम तापमान में तीन से चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट आने की संभावना है।” राजस्थान के कुछ हिस्सों में लू चलने की संभावना है. मौसम विभाग ने कहा कि अगले चार दिनों के दौरान पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में धूल भरी आंधी, गरज और 50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है।

जम्मू में भीषण गर्मी से राहत नहीं

जम्मू-कश्मीर के अधिकांश हिस्सों में तापमान सामान्य से कई डिग्री अधिक रहा। जम्मू में रविवार को अधिकतम तापमान 40.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो मौसम के औसत से 4.7 डिग्री अधिक था। मौसम विभाग के एक प्रवक्ता ने कहा कि जम्मू में न्यूनतम तापमान 26.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो मौसम के औसत से 4.1 डिग्री अधिक था। उन्होंने कहा कि कटरा में अधिकतम तापमान 36.6 डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम तापमान 23.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

उधर, कश्मीर घाटी में रविवार को पारा ऊपर की ओर बढ़ने के बावजूद मौसम सुहावना बना रहा। प्रवक्ता ने कहा कि ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में दिन का तापमान 29 डिग्री सेल्सियस और रात का तापमान 11.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि पिछले दिन क्रमश: 26.2 और 12 डिग्री सेल्सियस था। उन्होंने कहा कि श्रीनगर में अधिकतम और न्यूनतम तापमान सामान्य से क्रमश: 6.7 डिग्री सेल्सियस और 2.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने 3 से 5 मई के बीच जम्मू-कश्मीर के कई हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश या बर्फबारी की संभावना जताई है।

 

यह भी पढ़े:

गुरुग्राम के मानेसर में भीषण आग, मौके पर दमकल की 35 गाड़ियां

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर