Champat Ray Clarification Ram Mandir Land Scam:  राम मंदिर की जमीन खरीदने को लेकर श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट पर लग रहे भ्रष्टाचार के आरोपों के बीच ट्रस्ट के महासचिव चम्पत राय एक के बाद एक सफाई दी है। उन्होंने कहा कि, खोजबीन करने पर भूखण्ड हमारे उपयोग हेतु अनुकूल पाये जाने पर सम्बन्धित व्यक्तियों से सम्पर्क किया गया। भूमि का जो मूल्य मांगा गया, उसकी तुलना वर्तमान बाजार मूल्य से की। अन्तिम देय राशि लगभग 1,423/-रू0 प्रति वर्गफीट तय हुई जो निकट के क्षेत्र के वर्तमान बाजार मूल्य से बहुत कम है।

उन्होंने कहा कि, तीर्थ क्षेत्र का पहले दिन से ही निर्णय रहा है कि सभी भुगतान बैंक से सीधे खाते में ही किए जाएंगे। संबंधित भूमि की खरीद प्रक्रिया में भी इसी निर्णय का पालन हुआ है। यह भी सुनिश्चित किया जाता है कि सरकार की ओर से लगाये गये सभी टैक्स आदि का भुगतान हो जाये।

चंपत राय ने कहा है कि आरोप लगाने से पहले तीर्थ क्षेत्र के किसी भी पदाधिकारी से तथ्यों की जानकारी नहीं की, इससे समाज में भ्रम की स्थिति उत्पन्न हुई है। समस्त श्री राम भक्तों से निवेदन है कि वे ऐसे किसी दुष्प्रचार में विश्वास न करें।

Ayodhya Ram Mandir Land Scam Social Media Reaction: राम मंदिर से जुड़े कथित भूमि घोटाले को लेकर सोशल मीडिया पर जमकर चल रहे मीम्स, एक यूजर ने लिखा- बिट कॉइन छोड़ो, राम मंदिर की जमीन में इन्वेस्ट करो

Champat Ray on Ram Mandir Land Scam: राम मंदिर जमीन घोटाले पर महासचिव चंपत राय का जवाब- जमीन के दाम बढ़े, लेकिन बाजार की कीमत से कम दाम पर खरीदी जमीन

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर