तमिलनाडु, तमिलनाडु के कुन्नूर में सेना का हेलीकॉप्टर बुधवार को दुर्घटनाग्रस्त हो गया. इस हेलीकॉप्टर में CDS विपिन रावत, उनकी पत्नी समेत सेना के शीर्ष अधिकारी सवार थे. अभी तक इस हादसे में 11 लोगों के शव बरामद हुए हैं. ख़बरों के मुताबिक हेलीकॉप्टर में 14 लोग सवार थे. स्थानीय लोगों की मदद से घायल लोगों को रेस्क्यू कर अस्पताल पहुंचाया गया. CDS विपिन रावत समेत सभी घायलों को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया हैं, जहां पर उन सभी लोगों का इलाज चल रहा हैं. ख़बरों के मुताबिक CDS विपिन रावत की हालत नाजुक बताई जा रही है. वहीँ इस घटना के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह CDS विपिन रावत के दिल्ली स्थित घर पहुंचे है और परिजनों से मुलाकात की.

बता दें कि विपिन रावत देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्‍टाफ (सीडीएस) हैं. CDS विपिन रावत इस पद पर रहते हुए तीनों सेनाओं के बारे में रक्षा मंत्री के मुख्‍य सैन्‍य सलाहकार रहे हैं. अभी तक सेना ने जितने भी बड़े कदम उठाए है, उनमें CDS विपिन रावत का अहम योगदान रहा हैं. इससे पहले विपिन रावत भारतीय सेना के सेनाध्यक्ष (सीओएएस) रह चुके हैं. CDS पद की मांग साल 1999 के कारगिल युद्ध के बाद हुई थी, जिसमें कहा गया था कि तीनों सेनाओं के प्रमुख के रूप में इस पद की नियुक्ति जरूरी है, जिससे सेना से जुड़े फैसले तुरंत और रणनीतिक तौर पर मजबूत हो सके.

उत्तराखंड से ताल्लुक

CDS विपिन रावत का जन्म उत्तराखंड के पौड़ी में 16 मार्च 1958 में हुआ था. उन्होंने मेरठ यूनिवर्सिटी से मिलिट्री-मीडिया स्ट्रैटेजिक स्टडीज में पीएचडी की थी। उनके पिता सेना से लेफ्टिनेंट के पद से रिटायर हुए थे. उन्होंने देश के कई हिस्सों में सेना की कमान संभालते हुए बड़े-बड़े ऑपरेशन को अंजाम दिया है. CDS विपिन रावत ने 1978 में सेना में शामिल हुए थे. उन्होंने सेकेंड लेफ्टिनेंट के रूप में आर्मी में सफर शुरू किया और अभी सीडीएस जनरल के रूप में सेवाएं दे रहे हैं. विपिन रावत ने सेना में 4 दशक से ज़्यादा का समय बिताया है और इसी आधार पर उन्हें वीरता और अतिविशिष्‍ट पदको से सम्मानित किया गया हैं.

क्या है CDS के कार्य?

CDS सेना के तीन मुख्य अंगो के मामलें में रक्षा मंत्री के सलाहकार का काम करते है. जल, थल और वायु से जुड़े कोई भी बड़े मुद्दे पर रक्षा मंत्री CDS से सलाह लेते है.
CDS रक्षा मंत्री के अधीन रहने वाली रक्षा अधिग्रहण परिषद (Defense Acquisition Council) और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (National Security Advisor) के सदस्य के रूप में काम करते हैं.

CDS पर परमाणु और साइबर सेल का भी ज़िम्मा रहता है. देश में सेना से जुडी कोई भी बड़ी गतिविधि CDS के आदेश पर की जाती है.

यह भी पढ़ें:

CDS Bipin Rawat Helicopter Crash: हेलीकॉप्टर क्रैश पर कल बयान जारी करेंगे राजनाथ सिंह

CDS Bipin Rawat Helicopter Crash: हेलीकॉप्टर क्रैश पर कल बयान जारी करेंगे राजनाथ सिंह

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर