नई दिल्लीः केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 12वीं की परीक्षाएं चल रही हैं और 10वीं की हाल ही में समाप्त हो गई है. ऐसे में स्टूडेंट्स के मन में छुट्टी का तो खयाल है ही, साथ ही ये चलता रहता है कि रिजल्ट कब आएगा, पासिंग मार्क्स कितने होंगे, इंप्रूवमेंट मार्क्स के लिए अप्लाई कैसे करेंगे और कंपार्टमेंट एग्जाम की तारीख का ऐलान कब होगा. स्टूडेंट्स की इन सारी आशंकाओं का हल सीबीएसई ने निकाला है और इससे जुड़ा नया नोटिफिकेशन जारी किया है. सीबीएसई की इस अधिसूचना में तमाम जानकारियां दी गई हैं. स्टूडेंट्स cbse.nic.in पर जाकर नया नोटिफिकेशन देख सकते हैं.

इस तारीख को जारी होंगे परिणाम
लोकसभा चुनाव के मद्देनजर इस बार सीबीएसई के 10वीं और 12वीं एग्जाम के रिजल्ट्स समय से पहले जारी किए जाएंगे. सीबीएसई 10वीं और 12वीं एग्जाम्स के रिजल्ट आने की तय तारीख से एक या दो हफ्ते पहले ही रिजल्ट जारी कर दिए जाएंगे. हालांकि निश्चित तारीख की घोषणा नहीं की गई है. माना जा रहा है कि मई के दूसरे हफ्ते तक रिजल्ट्स जारी कर दिए जाएंगे.

इस दिन हो सकते हैं कंपार्टमेंट एग्जाम
सीबीएसई नोटिफिकेशन के अनुसार, अगर किसी स्टूडेंट को एग्जाम में अच्छे मार्क्स नहीं मिले तो उनके पास कंपार्टमेंट एग्जाम का विकल्प है जहां वह अपना मार्क्स बढ़ा सकते हैं. इस साल जुलाई या अगस्त में कंपार्टमेंट एग्जाम्स होंगे. अगर स्टूडेंट्स दोबारा कंपार्टमेंट एग्जाम देना चाहते हैं तो उन्हें अगले साल मार्च या अप्रैल में फिर मौका मिलेगा. हालांकि इसमें भी अगर स्टूडेंट्स को अच्छे मार्क्स नहीं मिले तो वह तीसरी बार एग्जाम दे सकते हैं जिनके अगले साल जुलाई या अगस्त में आयोजित होने के आसार हैं.

अगर कोई स्टूडेंट कंपार्टमेंट एग्जाम में फेल हो जाता है या परीक्षा में हिस्सा ही नहीं लेता है तो उसे फेल माना जाएगा. इसके बाद स्टूडेंट को दोबारा एनुअल एग्जाम देना होगा और सभी सब्जेक्ट्स में अपीयर होना पड़ेगा.

प्रैक्टिकल में फिर से हिस्सा लेना होगा या नहीं?
अगर कोई स्टूडेंट एनुअल एग्जाम यानी वार्षिक परीक्षा में फेल हो जाता है और अगले साल फिर से एग्जाम देता है तो उसे सिर्फ थ्योरी पेपर का एग्जाम देना होगा. उनके पिछले साल के प्रैक्टिक पेपर का मार्क्स अगले साल भी काम आएगा. सीबीएसई के मुताबिक, अगर कोई स्टूडेंट थ्योरी और प्रैक्टिकल दोनों में फेल हो जाता है तो उसे फिर से अगले साल दोनों क एग्जाम देने होंगे.

इंप्रूवमेंट या कंपार्टमेंट एग्जाम?
मालूम हो कि कंपार्टमेंट एग्जाम उनके लिए है जो एनुअल एग्जाम में फेल हो गए हैं. वहीं जिन स्टूडेंट्स को एनुअल एग्जाम में कम मार्क्स मिले हैं वो सीबीएसई में इंप्रूवमेंट के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

UP Board Result 2019 In April: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद 10वीं और 12वीं क्लास का रिजल्ट 20 अप्रैल को करेगा जारी

PM Narendra Modi in Maharashtra: वर्धा में पीएम नरेंद्र मोदी बोले- कांग्रेस ने हिंदुओं को कहा आतंकवादी, जनता माफ नहीं करेगी, प्रधानमंत्री के भाषण की 10 बड़ी बातें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App