नई दिल्ली. बुराड़ी सामूहिक सुसाइड केस में अभी तक गुत्थी सुलझी नहीं है. दिल्ली पुलिस इस मामले में रोजाना नए सबूत और थ्योरी के आधार पर जांच में जुड़ी है. अभी तक दिल्ली पुलिस बुराड़ी के घर में 11 लोगों की मौत मामले में रोजाना नए खुलासे हो रहे हैं. हालांकि आज भी परफेक्ट मर्डर एंगल से जांच तो पुलिस अभी भी कर रही है वह है बुराड़ी सामूहिक सुसाइड वाले दिन घर का मुख्य दरवाजा क्यों खुला था.

कई दिन बीत जाने के बाद भी बुराड़ी 11 शवों के मिलने की थ्योरी में घर का मुख्य दरवाजा अभी तक खुला क्यों था यह सबसे बड़ा प्रश्न बना हुआ है. पुलिस ने एक बार फिर परिवारवालों से पूछताछ करने का प्लान बनाया है. दरअसल यह अहम प्रश्न इसीलिए है क्योंकि परिवार कड़ी तपस्या व पूजा पाठ में लीन था ऐसे में वह तो पूजा के दौरान इतनी बड़ी नहीं कर सकता था.

परिवार पिछले सात दिनों से पूजा पाठ में लगा था वह दरवाजा खुला होने के कारण किसी के भी अचानक अंदर आ जाने से विफल हो सकती थी. इसीलिए बुराड़ी का रहने वाला यह परिवार इतनी बड़ी लापरवाही नहीं बरत सकता था. इस अहम बिंदु को बिना नजर अंदाज किए दिल्ली पुलिस एक बार फिर एस परफेक्ट एंगल से जांच में जुट गई है. बता दें इस केस में नया मोड़ आ चुका है. दिल्ली पुलिस ने बताया था कि घर में 11 नहीं कुल 12 लोग थे, जिसमें से 11 लोगों ने खुदकुशी की है. ललित के घर से बरामद रजिस्टर में एक लड़की का भी जिक्र है जोकि मास्टरमाइंड ललित की पत्नी टीना की रिश्तेदार हो सकती है.

बुराड़ी सामूहिक सुसाइड: 11वें दिन आत्मा के लौटने की अफवाह से खौफ, इलाके में भजन, कीर्तन और भागवत कथा

बुराड़ी सामूहिक सुसाइड: घर में 11 नहीं 12 लोग थे, जान बचाने भागी मास्टरमाइंड ललित की बीवी की रिश्तेदार

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App