नई दिल्लीः राजधानी के बुराड़ी इलाके में 11 लोगों की कथित तौर पर आत्महत्या के मामले को सुलझाने के लिए पुलिस एड़ी-चोटी का जोर लगा रही है. सोमवार को क्राइम ब्रांच ने मृतक परिवार की बेटी प्रियंका के मंगेतर से पूछताछ की. मिली जानकारी के अनुसार, प्रियंका के मंगेतर का रोहिणी में ऑफिस है. पुलिस ने उसके दफ्तर पहुंच उससे करीब तीन घंटे तक पूछताछ की. बताया जा रहा है कि पुलिस ने प्रियंका के मंगेतर से करीब 50 सवाल पूछे.

भावनात्मक तौर पर कमजोर दिखे मंगेतर ने पुलिस के सामने इस बात से इनकार किया कि भाटिया परिवार तांत्रिक क्रियाओं में लिप्त रहता था. घर से मिली डायरी में इस बात का जिक्र है कि दो साल पहले प्रियंका अपनी मां और मामा के साथ उज्जैन गई थी. कहा जा रहा है कि प्रियंका की शादी को लेकर वहां रात में कोई अनुष्ठान किया गया था. मंगेतर ने पुलिस को बताया कि उसे ऐसी कोई जानकारी नहीं है और न ही कभी प्रियंका ने उससे इस बात का जिक्र किया.

सोमवार को पुलिस ने भाटिया परिवार के आसपास के दुकानदारों को भी हिरासत में लेकर पूछताछ की. दरअसल घटना में स्टूल, डॉक्टर टेप, चुन्नी, साड़ी का इस्तेमाल किया गया था. इनमें से कुछ सामान घटना वाले दिन या फिर उससे पहले खरीदा गया था. 6 घंटे चली पूछताछ के बाद पुलिस ने जानकारी एकत्रित कर सभी दुकानदारों को छोड़ दिया. पुलिस ने इस मामले में हत्या की धाराओं के तहत केस दर्ज किया है लेकिन पुलिस का कहना है कि उन्हें पहले दिन से यह आत्महत्या का मामला जान पड़ रहा है.

गौरतलब है कि दिल्ली के बुराड़ी इलाके के एक घर में 11 लाशें मिलने के बाद हड़कंप मच गया था. इनमें 7 महिलाएं और 4 पुरुष थे. कहा गया कि मोक्ष पाने या फिर किसी इच्छा की पूर्ति के लिए घर के लोगों ने सामूहिक आत्महत्या की है. घर से मिली एक डायरी और रजिस्टर में कई बातों का जिक्र है. इसमें जो लिखा गया है, हूबहू उसी तरीके से परिवार के सदस्यों ने कथित तौर पर आत्महत्या की थी. क्राइम ब्रांच के करीब 150 अफसर इस रहस्यमयी आत्महत्या की गुत्थी को सुलझाने में जुटे हैं. पुलिस के आला अधिकारियों का कहना है कि जल्द ही वह किसी निष्कर्ष तक पहुंचने वाले हैं.

दिल्ली के बुराड़ी में हुई 11 मौतों के बारे में जानना चाहती है अमेरिका और इंग्लैंड की पुलिस

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App