नई दिल्ली: दिल्ली के जहांगीरपुरी से चला एमसीडी का बुलडोजर शाहीनबाग तक पहुंच गया है। दक्षिण दिल्ली एमसीडी ने अगले 5 दिनों तक अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाने की तैयारी पूरी कर ली है। अगर दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा बल मुहैया कराया तो आज शाहीनबाग में बुलडोजर चलना तय है। दक्षिण दिल्ली एमसीडी हर दिन अलग-अलग इलाकों में अतिक्रमण पर बुलडोजर चलाएगी।

नोटिस मिलते ही लोगों ने समेटा बोरिया-बिस्तर

आज शाहीनबाग मेन रोड, जसोला नाला से कालिंदी कुंज पार्क इलाके में बुलडोजर चलेगा। इसके लिए एमसीडी ने पहले से ही नोटिस चिपका दिए थे। हालांकि दक्षिण दिल्ली एमसीडी सेंट्रल जोन के चेयरमैन राजपाल सिंह का कहना है कि नोटिस के बाद 70 फ़ीसदी इलाकों में लोगों ने खुद से ही अवैध कब्जा हटा लिया है।

मेयर ने खुद किया था सर्वे

बता दें अप्रैल महीने के आखिरी हफ्ते में मेयर मुकेश सूर्य ने खुद दक्षिण दिल्ली के कई इलाकों में अधिकारियों के साथ जाकर अवैध निर्माण का सर्वे करवाया था। जिसके बाद से ही शाहीनबाग और आसपास के इलाकों में हलचल बढ़ी हुई है। ऐसे में अगर पुलिस ने सुरक्षा बल मुहैया कराया तो अवैध कब्जे पर बुलडोजर चलना आज तय है।

सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की गई याचिका

दक्षिण दिल्ली में ओखला, शाहीनबाग में अवैध निर्माण कर बसाई गई बस्तियों को हटाने के आदेश के खिलाफ भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी सीपीआईएम (मार्क्सवादी) ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है. याचिका में कहा गया है कि प्राधिकरण झुग्गी बस्तियां ढहाने की योजना बना चुके हैं। इसके साथ ही याचिका में यह भी कहा गया है कि 4 मई को संगम विहार में गरीबों की इमारतों पर बुलडोजर चलाया गया। अब सोमवार तक ओखला, शाहीनबाग में भी ऐसा ही करने का ऐलान किया है। दक्षिण दिल्ली नगर निगम ने बुलडोजर चलाने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल उपलब्ध कराए जाने के लिए पुलिस प्रशासन को नोटिस भेजा है।

जहांगीरपुरी से चलना शुरू हुआ था बुलडोजर

इससे पहले जहांगीरपुरी में हनुमान जयंती पर हिंसा होने के बाद एमसीडी की ओर से अवैध निर्माण पर बुलडोजर चलाने की कार्रवाई हुई थी। हालांकि कुछ देर बाद सुप्रीम कोर्ट ने एमसीडी की कार्रवाई पर रोक लगा दी थी।

यह भी पढ़े:

एलपीजी: आम लोगों का फिर बिगड़ा बजट, घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 50 रूपये हुआ महंगा

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर