नई दिल्ली.Budget 2019 for Employment: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज पेश कर रही हैं. सरकार ने रिफॉर्म, परफॉर्म और ट्रांसफॉर्म पर जोर दिया है. महिलाओं के विकास के पर भी बजट में जोर दिया गया है. बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, मैं भारत की महिलाओं का ध्यान नारी तू नारायणी पर आकर्षित करती हूं. इस सरकार का मानना है कि हम अधिक से अधिक महिलाओं की भागीदारी के साथ प्रगति कर सकते हैं. उन्होंन महिलाओं के लिए भी कई ऐलान किए हैं. महिलाओं को रोजगार के लिए कर्ज देने पर कम ब्याज की घोषणा की गई है. महिलाओं की भागीदारी के लिए विमेन सेल्फ ग्रुप्स (SHG) इंट्रेस्ट सबवेंशन प्रोग्राम को भी पूरे देश के राज्यों के सभी जिलों में लागू किया जाएगा.

नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने महिलाओं को लेकर कई बड़ी घोषणाएं की है. स्वयं सहायता समूह में शामिल महिलाओं को रोजगार के लिए मुद्रा योजना के तहत 1 लाख तक का लोन दिया जाएगा. हालांकि अतिरिक्त टैक्स में कामकाजी महिलाओं को सरकार की तरफ से राहत नहीं दी गई है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा ग्रामीण अर्थव्यवस्था में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए सरकार ने कई कदम उठाए हैं. हम महिला केंद्रित पॉलिसी लाकर महिला लीडरशिप को आगे लाने की कोशिश करेंगे.

वित्त मंत्री ने निर्मला सीतारमण की तरफ से पेश बजट को देखें तो हर महिला का जनधन खाता खोला जाएगा. महिलाओं के जनधन खाते में सरकार की तरफ से 5 हजार रुपए ओवर ड्रॉफ्ट के रूप में डाले जाएंगे. स्टैंडअप इंडिया स्कीम के तहत महिलाओं, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के लोगों को विशेष लाभ मिलेगा. वित्त मंत्री ने लोकसभा चुनाव में रिकॉर्ड मतदान करने के लिए देश की महिलाओं को धन्यवाद किया.

बजट पेश करने के दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा हमारी सरकार का मानना है कि हम अधिक से अधिक महिलाओं की भागीदारी के साथ प्रगति कर सकते हैं. यह सरकार महिला आंत्रप्रेन्योरशिप को देश में बढ़ावा देने का काम करेगी. सरकार की मुद्रा, स्टार्टअप और स्टैंडअप योजनाओं में महिलाओं को प्राथमिकता दी जा रही है. ग्रामीण अर्थव्यवस्था में भी महिलाएं अहम योगदान दे रही हैं. हमारी सरकार ने महिलाओं के सम्मान के लिए शौचालय बनवाए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App