बुलंदशहर: गुरुवार को लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान के दौरान एक युवक ने गलती से बीएसपी की जगह बीजेपी को वोट दे दिया और बाद में जब उसे अपनी लगती का एहसास हुआ तो उसे इतना दुख पहुंचा की उसने उस उंगली को ही काट दिया जिससे बीजेपी का बटन दबा था. मामला यूपी के बुलंदशहर का है. पवन कुमार नाम का ये शख्स शिकारपुर लोकसभा क्षेत्र के तहत आने वाले अब्दुल्ला पुर का रहने वाला है. आज जब पवन वोट देने गया तो वो मन बनाकर गया था कि वो एसपी-बीएसपी-आरएलडी उम्मीदवार योगेश वर्मा को वोट देगा लेकिन गलती से उसने बीजेपी के चुनाव चिन्ह कमल का बटन दबाकर बीजेपी उम्मीदवार भोला सिंह को वोट दे दिया.

पवन सिंह को जबतक एहसास हो पाता कि वो बीएसपी की जगह पर बीजेपी को वोट दे रहा है तबतक वो बटन दबा चुका था. वोट देने के बाद पवन कुमार को अपनी गलती का इतना मलाल हुआ कि उसने गंडासे से अपनी वो उंगली ही काट दी जिसने बीजेपी का बटन दबाया था.

पवन सिंह की एक वीडियो भी वायरल हो रही है जिसमें उससे कोई पीछे से पूछ रहा है कि ऊंगली कैसे कटी तो पवन सिंह बता रहा है कि वो बीएसपी उम्मीदवार को वोट देने गया था लेकिन गलती से उससे बीजेपी का बटन दब गया जिसके बाद पछतावे में आकर उसने खुद की उंगली काट ली और ऐसा उसने किसी दवाब में आकर नहीं किया है. पवन सिंह वीडियो में कह रहा है कि उसने गलती से दोबारा बीजेपी को वोट देकर गलती की जिसकी सजा उसने खुद को दी है.

दरअसल यूपी में ज्यादातर वोटिंग जातिय समीकरण के आधार पर होती है. ऐसे में एक दलित होने के नाते पवन कुमार यूपी का राजनीति में अहम भूमिका अदा करने वाली बहुजन समाज पार्टी (बसपा) का समर्थक है और इस के आधार पर वह बसपा-सपा-आरएलडी के गठबंधन के तहत चुनाव लड़ने उतरे प्रत्याशी को वोट देना चाहता था. लेकिन उससे गलती से वोट भाजपा को चला गया और गुस्से में आकर पवन कुमार ने यह कदम उठा लिया. आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 के तीसरे चरण का मतदान 23 अप्रैल को होना है.

Lok Sabha Elections 1962 Results Winners Full List: 1962 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस, कम्युनिस्ट पार्टी, जनसंघ और स्वतंत्र पार्टी को मिली कितनी सीट और कितना वोट

Google Doodle for Lok Sabha Elections 2019: लोकसभा चुनाव 2019 की जानकारी देने के लिए गूगल ने बनाया डूडल, फूलों और गुब्बारों से सजे पोलिंग बूथ

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App