नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी ने छठ पूजा के सार्वजनिक आयोजन के लिए मंगलवार को विरोध प्रदर्शन ( BJP protest outside CM Kejriwal residence ) किया. इस विरोध प्रदर्शन में बीजेपी दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता और सांसद मनोज तिवारी समेत कई कार्यकर्ताओं ने भाग लिया. विरोध को बढ़ता देख दिल्ली पुलिस ने वाटर कैनन का भी इस्तेमाल किया. इस बीच सांसद मनोज तिवारी को चोट लग गई, जिसके बाद उन्हें सफदरजंग अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

मनोज तिवारी सफदरजंग अस्पताल में भर्ती

मंगलवार को छठ के सार्वजिनक आयोजन के लिए बीजेपी ने विरोध प्रदर्शन किया. इस प्रदर्शन में आदेश गुप्ता, मनोज तिवारी सहित सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया. विरोध प्रदर्शन को रोकने के लिए दिल्ली पुलिस ने जगह-जगह बैरिकेडिंग भी की थी, लेकिन इसका कोई फायदा नहीं हुआ. भाजपा कार्यकर्ताओं ने बैरिकेडिंग तोड़ कर विरोध प्रदर्शन किया, हालत को बेकाबू होता देख दिल्ली पुलिस ने वाटर कैनन का इस्तेमाल किया. इसी बीच, सांसद मनोज तिवारी को चोट लग गई, जिसके बाद उन्हें सफदरजंग अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. फिलहाल अस्पताल में मनोज तिवारी का इलाज चल रहा है.

DDMA ने लगाई थी छठ के सार्वजनिक आयोजन पर रोक

बता दें DDMA ने पिछले हफ्ते एक आदेश में कोविड-19 स्थिति के मद्देनज़र नदी किनारे, जलाशयों और मंदिरों समेत सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा समारोह पर पाबन्दी लगा दी थी. भाजपा कार्यकर्ताओं ने केजरीवाल सरकार के इस फैसले का विरोध किया है और सार्वजिनक स्थलों पर छठ पूजा की अनुमति देने की मांग की है. इसपर प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता का कहना था कि भाजपा साशित नगर निगम में छठ पूजा सार्वजनिक जगहों पर मनाई जाएगी.

यह भी पढ़ें :

Lakhimpur Kheri ‘Antim Ardas’ : लखीमपुर खीरी में मारे गए किसानों की अंतिम अरदास में पहुंचे राकेश टिकैत किसानों की कितनी जुटी भीड़?

MG ZS Electric 2022 : MG की यह कार सिंगल चार्ज में चलेगी 437 किलोमीटर

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर