नई दिल्ली: Piyush Goyal on Rafale deal: राफेल डील में हुई कथित धांधली को लेकर लगातार बीजेपी पर हमलावर हो रही कांग्रेस पार्टी को जवाब देते हुए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि एक झूठ सौ बार बोलने से वो सच नहीं बन जाएगा. भाजपा नेता पीयूष गोयल ने ने निशाना साधते हुए राफेद सौदे पर स्पष्टीकरण दिया और कहा कि 2007 से 2012 में यूपीए शासन काल में स्वीकार किए गए नियमों से काफी बेहतर सौदा बीजेपी शासन काल में हुआ.

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि राफेल सौदे पर पिछले लंबे समय से काफी भ्रम फैलाया जा रहा है. लेकिन झूठ वे लोग बोल रहे हैं जिनके पास इस समय कोई मुद्दा नहीं है और इसे मुद्दा बना रहे हैं. वह समझ नहीं रहे हैं कि एक ही झूठ को 100 बार दोहराने से वह झूठ ही रहता है वह मच में नहीं बदलता. यूपीए की तुलना में बेहतर सौदा करते हुए हमनें तेज डिलीवरी, मरम्मत का लंबा समय और स्पेयर पार्ट्स की बेहतर उपलब्धता हासिल की.

बता दें राफेल सौदे पर हाल में फ्रांस की कंपनी दसॉल्ट का बयान आया था जिसमें सीईओ ने कहा था कि कानून के हिसाब से ही उन्होंने अनिल अबांनी की कंपनी रिलायंस को चुना था यह फैसला कंपनी का ही फैसला था. इस बयान के बाद एक बार फिर राफेल मुद्दा गरमा गया है. इस बयान को लेकर पीयूष गोयल ने कहा कि दसॉल्ट एविएशन के सीईओ ने भी साफ कर दिया कि कांग्रेस भ्रम फैला रही है. कंपनी के सीईओ ने पुष्टि की कि ऑफसेट लागू करना जरूरी था और ऑफसेट को उन्होंने खुद चुना.

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि अब तो कांग्रेस को भी समझ जाना चाहिए कि भाजपा की सरकार पारदर्शिता की सरकार है. भाजपा नेता ने कांग्रेस को मुद्दावीहिन पार्टी कहाकर पुकारा. केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने भारत और फ्रांस के बीच लड़ाकू विमान राफेल को लेकर कहा कि कांग्रेस और राहुल गांधी मीडिया रिपोर्ट के तथ्य तरोड़ मरोड़ कर पेश कर रहे हैं. कांग्रेस अपने क्राइम को छुपाना चाह रही है ऐसा झूठ बोल कर.

अखिलेश यादव से मिले यशवंत सिन्हा और शत्रुघ्न सिन्हा, बोले- नरेंद्र मोदी के राज में इमरजेंसी से बदतर हालात

राफेल डील को लेकर फिर गरजे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पीएम नरेंद्र मोदी को कहा भ्रष्टाचारी, मांगा इस्तीफा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App