अहमदाबादः बीजेपी नेता और राज्यसभा सदस्य सुब्रमण्यन स्वामी ने फिर एक बार नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली केंद्र सरकर पर जोरदार हमला किया है. गुजरात के अहमदाबाद में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्रीय सांख्यिकी संगठन (सीएसओ) के अधिकारियों पर बेहतर आर्थिकक देने का दबाव बनाया गया था, जिससे यह दिखाया जा सके कि जीएसटी और नोटबंदी का भारत की अर्थव्यवस्था पर गलत असर नहीं पड़ा है. उन्होंने जीडीपी के आंकड़ो को फर्जी बताया.

स्वामी शनिवार को अहमदाबाद में चार्टर्ड अकाउंटेंट के एक सम्मेलन में पहुंचे थे. जहां उन्होंने सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार सीएसओ पर अच्छे आंकड़े देेने दबाव बनाती है. उन्होंने कहा कि कृपा करके जीडीपी के तिमाही आंकड़ों पर ना जाएं, वे सब फर्जी हैं. ये बात मैं आपसे कह रहा हूं, क्योंकि मेरे पिता ने सीएसओ की स्थापना की थी. उन्होंने कहा कि हाल ही में मैं केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा के साथ वहां गया था. उन्होंने सीएसओ अधिकारियों को आदेश दिया क्योंकि नोटबंद की अच्छे आंकड़ें जारी करने का प्रेशर था.

जिसके चलते उन्होंने जीडीपी के ऐसेे आंकड़ें जारी किए, जिससे नोटबंदी के नकारात्मक प्रभाव का पता ना चले. उन्होंने कहा कि मैं घबराहट महसूस कर रहा हूं क्योंकि मुझे पता कि इन सब से अर्थव्यवस्था पर असर पड़ा है. मैंने सीएसओ के निदेशक से पूछा आपने उस तिमाही में जीडीपी के आंकड़ों का अनुमान कैसे लगाया था जब नवंबर 2016 में नोटबंदी का फैसला लिया गया. स्वामी के अनुसार निदेशक ने कहा कि वे क्या कर सकते थे वे दबाव में थे, उनसे आंकड़ें मांगे गए उन्होंने दे दिए, स्वामी का कहना है कि ऐसे तिमाही आंकड़ों पर भरोसा ना करें. 

यह भी पढ़ें- बीजेपी सांसद सुब्रमण्यन स्वामी बोले- मालदीव पर हमला करे भारत, मचा बवाल

सुप्रीम कोर्ट का अयोध्या में पूजा के अधिकार पर सुब्रमण्यन स्वामी को जल्द सुनने से इनकार

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App