रांची: झारखंड के लातेहर में बीजेपी नेता राजधानी यादव ने उनकी निजी कार से नेम प्लेट हटाने को लेकर जिला परिवहन अधिकारी यानी डीटीओ फिलबियूस बाखला की सरेआम पिटाई कर दी. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक बाखला के साथ मारपीट की घटना उस वक्त हुई जब वो पुलिस अधिक्षक कार्यालय के पास खड़ी स्थानीय नेता राजधानी यादव की नेमप्लेट को हटवा रहे थे. अपनी गाड़ी से नेमप्लेट हटता हुआ देख बीजेपी नेता को इतना गुस्सा आया कि उन्होंने सरेआम डीटीओ अधिकारी की पिटाई कर दी.

ये घटना करीब दो महीने पहले यानी जनवरी की है लेकिन इसका वीडियो इंटरनेट पर खूब वायरल हो रहा है. वीडियो में साफ सुनाई दे रहा है कि राजधानी यादव डीटीओ को थप्पड़ मारते हुए उन्हें घूसखोर कह रहे हैं साथ ही साथ ये भी कह रहे हैं कि प्लेट उतारने से पहले उन्हें नोटिस क्यों नहीं दिया गया? इस बीच बीजेपी नेता लाल कौशल नाथ शाहदेव ने मामले को शांत कराने की कोशिश की लेकिन राजधानी यादव फिर एक बार अपना आपा खो बैठे और डीटीओ को धक्का दे दिया. इस दौरान राजधानी यादव ने कहा कि कलेक्टर नहीं बल्कि वो जिला के मालिक हैं. आगे वो कहते हैं कि लाल बत्ती खोल लिया, पीली बत्ती खोल लिया. अब मालिक लाल और पीली बत्ती नहीं रखेगा तो क्या नौकर रखेगा?

इस बीच डीटीओ ने जिला कलेक्टर के आदेश का हवाला दिया लेकिन राजधानी यादव ने उन्हें धक्का दे देकर जमीन पर गिरा दिया और फिर दोनों के बीच हाथापाई होने लगी. इस दौरान वहां मौजूद भीड़ तमाशबीन बनी नजर आई. इस घटना के बाद डीटीओ अधिकारी ने राजधानी यादव के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई और घटना के करीब तीन घंटे बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया.

पढ़ें- बिहार: मंदिर से लौट रही छात्रा को दो बदमाशों ने बनाया एसिड अटैक का शिकार

शिक्षा को लेकर छलका तेजस्वी यादव का दर्द, कम पढ़े लिखे तो तेंदुलकर-धोनी भी हैं, लेकिन अनपढ़ मुझे ही कहा जाता है

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App