नई दिल्ली. हाल ही में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के राम मंदिर वाले बयान पर आई मीडिया रिपोर्ट का बीजेपी ने खंडन किया है. बीजेपी ने कहा है कि 2019 के आम चुनाव से पहले अयोध्या में राम मंदिर का काम शुरु किए जाने की बात हमारे एजेंडे में नहीं थी. बता दें कि एक मीडिया एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबित अमित शाह ने हैदराबाद में पार्टी नेताओं के साथ हुई बैठक में कहा था कि साल 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले राम मंदिर का निर्माण शुरू कर दिया जाएगा.

अमित शाह के राम मंदिर को लेकर ऐसे बयान की खबर से हलचल मच गई थी क्योंकि बीजेपी के कई बड़े नेता इस मुद्दे पर बोलने से बचते रहे हैं. बताते चलें कि पूर्व सांसद औ राम जन्मभूमि न्यास के वरिष्ठ सदस्य डॉ. रामविलास दास वेदांती ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ एक मंच पर रहते हुए कहा था कि यदि बीजेपी राम मंदिर नहीं बनाती है तो उसका अस्तित्व खत्म हो जाएगा और वो रसातल में चली जाएगी. 

उन्होंने कहा था कि योगी जी ने उत्तर प्रदेश के चुनाव से पहले राम मंदिर के नाम पर वोट मांगा था जिससे उन्हें भारी वोट से जीत भी मिली. ऐसे में अब अगर राम मंदिर का निर्माण नहीं किया गया तो पार्टी रसातल में जाकर खत्म हो जाएगी. रामविलास के इस बयान  पर योगी ने कहा था कि राम मंदिर को बनाए जाने को लेकर संत समाज को धैर्य रखना जरूरी है. हम बहुत जल्द ही इसका हल निकाल लेंगे. इसके लिए हमें समाजिक तनाव को कम करना जरूरी है.

2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले अयोध्या में शुरू हो जाएगा राम मंदिर का निर्माणः अमित शाह

अयोध्या राम मंदिर पर टूट रहा साधु-संतों का धैर्य, महंत नृत्य गोपालदास के जन्मदिन पर CM योगी को मंच से सुनाई खरी-खोटी

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App