पटना; चुनावी रणनीतिकार कहे जाने वाले प्रशांत किशोर इन-दिनों बिहार दौरे पर है. उन्होंने आज पटना में एक प्रेस कांफ्रेंस की. इस प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव पर निशाना साधा. प्रशांत किशोर ने कहा कि पिछले 30 सालों से बिहार में लालू और नितिश का राज रहा, लेकिन बावजूद इसके बिहार आज देश के बाकी राज्यों की तुलना में देश का सबसे पिछड़ा और गरीब राज्य है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि में आज पार्टी की घोषणा नहीं कर रहा हूँ.

जानें प्रेस कांफ्रेंस में पीके ने क्या-कुछ कहा

चुनावी रणनीतिकार वाले प्रशांत किशोर ने कहा कि ”अब बिहार में नई सोच और नए प्रयास की जरूरत है, यहां सामाजिक न्याय की बात पीछे छूट गई है. उन्होंने कहा कि बिहार विकास के मामले में सबसे नीचे पायदान पर है और इस सच्चाई को कोई झुठला नहीं सकता.” उन्होंने कहा, ”अगर आगे के 10-15 सालों में बिहार को अग्रणी राज्यों की सूची में आना है तो उसके लिए नई सोच और नए प्रयास की जरूरत है.”

जनस्वारज की सोच के साथ करीब 18 हजार लोगों से मिलूंगा- पीके

इसके साथ ही पीके ने कहा कि ”मेरा ऐसा मानना है कि नई सोच और नया प्रयास कोई एक व्यक्ति नहीं कर सकता. उन्होंने कहा कि जबतक बिहार के सभी लोग कोशिश नहीं करेंगे, तबतक बिहार का कल्याण नहीं हो सकता.” प्रशांत किशोर ने कहा कि, ”मैं आज किसी पार्टी या राजनीतिक दल की घोषणा नहीं करने वाला हूं, मेरी कोशिश है कि मैं आने वाले तीन चार महीनों में, मैं जनस्वारज की सोच के साथ करीब 18 हजार लोगों से मिलूंगा.”

उन्होंने आगे कहा कि , ”करीब 90 फीसदी लोग इस बात से सहमत हैं कि बिहार में अब नई सोच और नई कोशिश की जरूरत है. मैं अब 18 हजार लोगों से स्वाद करूंगा और इन सभी को भागीदार बनाना मेरा लक्ष्य है. ये सभी साथ आए और सभी ने नई पार्टी बनाने पर सहमति दी तो एक नई पार्टी की घोषणा की जाएगी.”

यह भी पढ़े:

गुरुग्राम के मानेसर में भीषण आग, मौके पर दमकल की 35 गाड़ियां

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर