बिहार. Bihar Government Imposed Ban On Pan Masala: बिहार की नीतीश कुमार सरकार ने बड़ा फैसला किया है. दरअसल नीतीश कुमार सरकार का बड़ा फैसला यह है कि राज्य में शराब के बाद अब अब पान मसाला पर भी बैन लगा दिया गया है. सरकार की तरफ से फिलहाल यह बैन 12 महीने के लिए लगाया गया है. रिपोर्ट आने के बाद इसे स्थायी भी किया जा सकता है. बिहार सरकार के स्वास्थ विभाग के फूड सेफ्टी विंग ने नोटिफेकशन जारी कर बैन की जानकारी दी है. नोटिफिकेशन के मुताबिक सरकार की ओर से पाना मसाला उत्पादों की बिक्री, स्टोरेज, वितरण पर बैन लगाया है. सरकार का यह आदेश पूरे राज्य में लागू होगा.

बिहार सरकार की और से 20 प्रकार के पान मसाला ब्रांड की लिस्ट जारी की गई है, जिनकी बिक्री, उत्पादन और भंडारण पर बैन लगाया गया है. इससे पहले नीतीश कुमार ने सत्ता में वापसी के बाद अपने वादे के मुताबिक बिहार में शराब पर बैन लगा दिया था. करीब चाल साल से बिहार में शराब की बिक्री नहीं होती है. अब नीतीश कुमार सरकार का यह आदेश कितना सफल हो पाता है यह आने वाला वक्त ही बताएगा.

बिहार में खाद्य सुरक्षा आयुक्त संजय कुमार ने कहा कि पान मसाला खाने से लोगों के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है. शुक्रवार को सरकार की तरफ से इस पर बैन लगाने का आदेश जारी किया गया है. जिन पान मसाल ब्रांड की जांच कई गई है उसमें पाया गया है कि कंपनियों की तरफ से इमें मैग्नेशियम कॉर्बोनेट मिलाया गया है. इससे देश लोगों में दिल संबंधी गंभीर बीमारियों का खतरा बढ़ गया है. लोगों के स्वास्थ्य को देखते हुए सरकार ने यह कदम उठाया है.

मैग्नेशियम कॉर्बोनेट से होने वाली दिल की बीमारियों को देखते हुए सरकार ने पान मसाला में इसे मिलाने पर बैन लगा दिया था. पान मसाला के लिए फूड सेफ्टी एक्ट 2006 के तहत मानक तय किए गए थे. इसमें इस तत्व को मिलाने पर बैन की बात की घई थी. लेकिन जिन 20 सैंपल की आयुक्त ने जांच की हैं उसमें मैग्नेशियम कॉर्बोनेट मिला हुआ पाया गया है. इसी के चलते 12 महीने का बैन लगाया गया है. सरकार का कहना है कि बीमारियों को रोकने के लि पान मसाला के उत्पादों पर बैन लगाया गया है.

CBI Raids Govt Departments: सीबीआई की भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ी मुहिम, देशभर में 150 जगहों पर की छापेमारी

Narendra Modi Government Banks Merger: नरेंद्र मोदी सरकार का बड़ा फैसला, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया 10 बड़े सरकारी बैंकों का विलय, 27 में से बचेंगे 12 बैंक

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App