बिहार. लालू यादव भक्त चरण दास को ‘भकचोन्हर’ कहने के बाद से विवादों में घिरे हुए हैं. इस पर कांग्रेस की वरिष्ठ नेता मीरा कुमार ने आपत्ति जताई है. उन्होंने कहा है कि लालू जैसे वरिष्ठ नेता को ऐसी भाषा शोभा नहीं देती है. उन्होंने जिस तरह की भाषा का इस्तेमाल किया है, उससे न सिर्फ बिहार बल्कि पूरे देश की दलित समुदाय की भावना को ठेस पहुंची है. इस मामले में आरजेडी ने लालू का बचाव करते हुए भक्त चरण दास को ही आर एस एस का एजेंट बताया है.

लोकतंत्र की लड़ाई को कमज़ोर कर रहे भक्त चरण दास जैसे नेता – RJD प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी

बीते दिनों लालू यादव ने भक्त चरण दास को ‘भकचोन्हर’ कहा था. बता दें कि ‘भकचोन्हर’ का अर्थ मुर्ख होता है. लालू अपने इस बयान के बाद विवादों में घिरे नज़र आए. उनकी इस टिपण्णी पर कांग्रेस की वरिष्ठ नेता मीरा कुमार ने भी आपत्ति जताई है, उन्होंने इसे एससी एसटी एक्ट का मामला बताया था.

जिसपर आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने लालू का बचाव करते हुए कहा है कि भक्त चरण दास जैसे नेता तो संघ के एजेंट हैं.

मामले पर भक्त चरण दास का क्या है कहना

भक्त चरण दास ने सोमवार को कहा कि ‘लालू देश के एक सम्मानित वरिष्ठ नेता हैं. वह उनके बड़े भाई की तरह हैं. लालू प्रसाद उनके बारे में जो चाहे कह सकते हैं, लेकिन वह हमेशा उन्हें अपना सम्मान देंगे. लालू यादव बड़े आदमी हैं गाली दे सकते हैं. हम तो छोटे आदमी हैं हम गाली क्या दें. लालू जी को अगर सबकुछ आता है तो ठीक है. लालू जी कई बार मुख्यमंत्री रह चुके हैं. उनका बेटा भी मुख्यमंत्री बने तो कोई बात नहीं, मेरा मकसद यही है कि जो पिछड़ा यादव है उसका कल्याण हुआ या नहीं उसको देखें.’

यह भी पढ़ें :

New teams in IPL 2022 : आईपीएल में दो नई टीमें, अहमदाबाद और लखनऊ शामिल

Amit Shah’s Kashmir Visit सैनिकों संग गुजारेंगे रात, डिनर कर जवानों का हौंसला बढ़ाएंगे अमित शाह