नई दिल्ली. भारतीय रेलवे ने आज बड़ा ऐलान किया कि अब कोई भी व्यक्ति या कंपनी ट्रेन को किराए पर लेकर चला सकती है. इन ट्रेनों को ‘भारत गौरव ट्रेन’ (Bharat Gaurav Train) नाम दिया गया है. ट्रेनों को लेने के लिए कुछ तय शर्तों को पूरा करना होगा और रेलवे इसके बदले संबंधित व्यक्ति या कंपनी से न्यूनतम किराया लेगी बदले में अधिकार देगी कि उसकी पटरियों पर निजी ट्रेन दौड़ाये और कमाये.

भारत गौरव ट्रेनों के संचालन से रेलवे की आय में होगा इजाफा

रेलवे मंत्री अश्विनी वैष्णव ने भारत गौरव ट्रेनों को लेकर बड़ा ऐलान किया है, उनके मुताबिक़ भारत गौरव ट्रेनों के संचालन से एआइआरसीटीसी की आय में बड़ा इजाफा हो सकता है. इन ट्रेनों के संचालन से भारतीय पर्यटन स्थलों को बढ़ावा मिलेगा. लोग भारत की खूबसूरती के बारे में जान पाएंगे. इसी के तहत हाल ही में रामायण एक्सप्रेस ट्रेनों की शुरुआत की गई थी, जो भगवान राम से जुड़े तीर्थ स्थानों के लोगों को दर्शन करवाएगी. रेल मंत्री ने कहा कि ”हमने ‘भारत गौरव’ ट्रेनों के लिए 180 से अधिक ट्रेनों का आवंटन किया है और 3033 कोचों की पहचान की है.”

भारत गौरव ट्रेनों पर क्या है रेल मंत्री का कहना

भारत गौरव ट्रेनों के संचालन से अब आईआरसीटीसी की कमाई बढ़ने की संभावना है. इससे भारत के पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा. इस बारे में बात करते हुए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि, “फिलहाल हमने थीम बेस ट्रेनों के संचालन के लिए हमने 150 रेलगाड़ियों और 3000 से ज्यादा कोच की पहचान की है. हमारे इस नए प्रस्ताव के तहत यदि कोई ऑपरेटन किसी स्टेशन पर ट्रेन को पार्क करना चाहता है तो उसे वह सुविधा मिलेगी। इसके अलावा खान-पान की सुविधा भी वे अपने हिसाब से तय कर सकेंगे.”

यह भी पढ़ें :

Actress rubina dilaik trolled: एक्ट्रेस रुबीना दिलैक अपने बढ़ते वज़न के चलते हुई ट्रोल, अभिनेत्री ने दिया करारा जवाब

Police Flag Day पर सीएम योगी को यूपी के डीजीपी और एडीजी ने किया सम्मानित

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर