नई दिल्लीः कांग्रेस ने आज पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों और महंगाई को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ ‘भारत बंद’ बुलाया है. बिहार और मध्य प्रदेश के कुछ इलाकों में हिंसा की खबरें मिल रही हैं. दूसरी ओर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए अध्यक्षा सोनिया गांधी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार, लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव समेत कई बड़े नेता दिल्ली के रामलीला मैदान में धरने पर बैठे हैं. कांग्रेस का दावा है कि पार्टी द्वारा आज बुलाए गए ‘भारत बंद’ को 21 दलों का समर्थन है. वहीं कुछ विपक्षी राजनीतिक पार्टियों ने इससे दूरी भी बनाई है.

कांग्रेस के इस ‘भारत बंद’ से कई विपक्षी पार्टियां सहमत नहीं हैं, लिहाजा उन्होंने साफ कर दिया है कि उनके कार्यकर्ता ‘भारत बंद’ कराने से जुड़ी किसी भी गतिविधि में शामिल नहीं होंगे. तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी), बीजू जनता दल (बीजेडी), तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) और ऑल इंडिया अन्ना द्रविण मुन्नेत्रा कज़गम (एआईएडीएमके) व कई अन्य क्षेत्रीय राजनीतिक दल हैं जो कांग्रेस के इस ‘भारत बंद’ के खिलाफ हैं. राजनीतिक समरसता और पार्टी विचारधारा के चलते यह दल ‘भारत बंद’ का समर्थन नहीं कर रहे हैं.

बताते चलें कि रविवार को कांग्रेस ने दावा किया था कि उनके इस भारत बंद को 21 राजनीतिक दलों का समर्थन प्राप्त है. सपा, बसपा, आप, टीडीपी, एनसीपी, डीएमके, जेडीएस, आरजेडी, झारखंड मुक्ति मोर्चा, सीपीआई, सीपीएम, एआईडीयूएफ, नेशनल कांफ्रेंस, झारखंड विकास मोर्चा, केरल कांग्रेस, आरएसपी, आईयूएमएल, लोकतांत्रिक जनता दल, राजू शेट्टी की स्वाभिमानी शेतकरी पार्टी और हिंदुस्तान अवाम पार्टी (हम) ‘भारत बंद’ के समर्थन में हैं.

गौरतलब है कि रविवार को कांग्रेसी नेताओं ने सभी कार्यकर्ताओं से शांतिपूर्ण तरीके से ‘भारत बंद’ किए जाने की अपील की थी, लेकिन बिहार की राजधानी पटना और मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में हिंसा की खबरें मिल रही हैं. खबर है कि उज्जैन में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने पेट्रोल पंप पर तोड़फोड़ की है. वहीं गुजरात के भरूच में अहमदाबाद-मुंबई नेशनल हाईवे पर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने टायर जलाकर चक्काजाम कर दिया. महाराष्ट्र में प्रदर्शन कर रहे कई कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हिरासत में भी लिया गया है.

Bharat Bandh LIVE UPDATE: हिंसक हो रहा कांग्रेस का भारत बंद, देश भर में हो रहीं आगजनी और तोड़फोड़ की घटनाएं

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App