नई दिल्लीः केंद्र में सत्तारुढ़ बीजेपी सरकार ने पिछले मॉनसून सत्र में SC/ST एक्ट में संशोधन कर उसे मूल स्वरूप में बहाल कर दिया. इससे एससी/एसटी वर्ग तो खुश हो गया लेकिन ऐसा कर बीजेपी ने सवर्ण वर्ग को नाराज कर दिया. 6 सितंबर यानी आज सवर्ण संगठनों द्वारा बुलाया गया भारत बंद (Bharat Bandh) इसी नाराजगी का नतीजा है. बंद के एहतियातन पूरे देश में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है. बिहार के आरा, दरभंगा और मुंगेर में प्रदर्शनकारियों ने ट्रेनें रोककर विरोध जताया. बिहार और मध्य प्रदेश में प्रदर्शनकारियों और विरोधियों के बीच हिंसक झड़प की भी खबरें मिल रही हैं.

भारत बंद के तहत मध्य प्रदेश सबसे संवेदनशील बना हुआ है. यहां पुलिस और प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद हैं. मध्य प्रदेश के तीन जिलों मुरैना, भिंड और शिवपुरी में एहतियातन धारा-144 लगा दी गई है. धारा-144 भारत बंद के अगले दिन यानी 7 सितंबर तक प्रभावी रहेगी. हालांकि संवेदनशील माने जाने वाले कुछ जिलों में अभी प्रशासन ने इंटरनेट सेवा को बाधित नहीं किया है. प्रशासन का कहना है कि मामले की गंभीरता को देखते हुए इंटरनेट सेवा पर रोक लगाई जा सकती है.

बताते चलें कि मध्य प्रदेश में एससी-एसटी एक्ट में संशोधन का सबसे मुखर विरोध हो रहा है. इसी के चलते राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर हाल ही में जूता फेंकने से लेकर गाड़ी पर पथराव और काले झंडे दिखाए जाने समेत कई घटनाएं हुईं हैं. मध्य प्रदेश में आज स्कूल-कॉलेजों को बंद रखा गया है. पेट्रोल पंपों को भी दिन भर बंद रखने का फैसला लिया गया है. देश भर में बंद का असर देखने को मिल रहा है.

यहां देखें, Bharat Bandh से जुड़ा हर LIVE Updates:

Live Blog

पटना में बीजेपी और जेडीयू दफ्तर के बाहर प्रदर्शन-

बिहार और मध्य प्रदेश में दो गुटों के बीच हिंसक झड़प की खबरें मिल रही हैं. फिलहाल हालात काबू में हैं. वहीं दूसरी ओर पटना में प्रदर्शनकारियों ने बीजेपी और जेडीयू के दफ्तरों के बाहर विरोध प्रदर्शन किया. उन्होंने एससी-एसटी एक्ट में संशोधन को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की.

बिहार में उग्र हुआ प्रदर्शन-

सवर्ण संगठनों द्वारा बुलाए गए भारत बंद को लेकर बिहार में प्रदर्शन उग्र हो गया है. बंद समर्थकों और विरोधियों के बीच हिंसक झड़प की खबरें मिल रही हैं. घटनास्थल पर पुलिस पहुंच चुकी है. पटना में प्रदर्शनकारियों ने नेशनल हाईवे जाम कर दिया है.

मध्य प्रदेश के विदिशा में भारत बंद के समर्थन में सड़कों पर उतरे प्रदर्शनकारी-

भारत बंद के चलते मध्य प्रदेश में 10 बजे से 4 बजे तक पेट्रोल पंप्स को बंद रखा गया है-

भारत बंद के चलते राजस्थान के कोटा में भी दुकानें बंद हैं. जगह-जगह पुलिस तैनात है-

यूपी की राजधानी लखनऊ में भारत बंद के समर्थन में दुकानें बंद रखी गई हैं-

राजस्थान के अलवर में भी भारत बंद का असर देखने को मिल रहा है-

मध्य प्रदेश के ग्वालियर में ड्रोन से निगरानी की जा रही है. फिलहाल स्थिति शांतिपूर्ण है-

बिहार के मोकामा में प्रदर्शनकारी टायर जलाकर चक्काजाम कर रहे हैं-

राजस्थान के अजमेर में भी भारत बंद के समर्थन में दुकानें बंद रखी गई हैं-

भारत बंद को लेकर महाराष्ट्र की सड़कों पर उतरे प्रदर्शनकारी-

महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, राजस्थान में भी भारत बंद का असर-

एससी-एसटी एक्ट के विरोध में सवर्ण वर्गों द्वारा बुलाए गए भारत बंद का असर देश के कई राज्यों में देखने को मिल रहा है. महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में भी SC/ST एक्ट में संशोधन के विरोध में प्रदर्शन हो रहे हैं. जगह-जगह टायर जलाकर चक्काजाम किया जा रहा है. भारत बंद के समर्थन में दुकानें बंद रखी जा रही हैं.

बिहार की राजधानी पटना में भी भारत बंद का असर देखने को मिल रहा है-

बिहार के दरभंगा और मुंगेर में भारत बंद करा रहे प्रदर्शनकारियों ने रोकीं ट्रेन-

मोदी सरकार द्वारा किए गए SC/ST एक्ट में संशोधन के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे सवर्ण वर्ग का प्रदर्शनकारियों ने बिहार के दरभंगा और मुंगेर के मसूदन में ट्रेनें रोक दीं. इससे पहले प्रदर्शनकारियों ने आरा में भी ट्रेन रोककर विरोध जताया.

मध्य प्रदेश में चप्पे-चप्पे पर तैनात पुलिस-

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में भारत बंद का खासा असर देखने को मिल रहा है. सवर्ण संगठनों द्वारा जगह-जगह शांतिपूर्ण तरीके से विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं. यहां सभी संवेदनशील जगहों पर पुलिस बल तैनात है. सूबे के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों का कहना है कि सभी जगहों पर पुलिस निगरानी कर रही है. अभी तक किसी भी जिले से हिंसक घटना की कोई खबर नहीं है. कोई भी प्रदर्शनकारी किसी व्यक्ति को जबरन बंद का हिस्सा होने के लिए नहीं कह सकता.

बिहार में भी दिख रहा भारत बंद का असर-

बिहार के कई जिलों में भारत बंद का असर देखने को मिल रहा है. मोदी सरकार द्वारा किए गए SC/ST एक्ट में संशोधन के विरोध यहां बाजार बंद रखे गए हैं. आरा में सवर्ण संगठनों से जुड़े प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन रोककर विरोध जताया.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App