नई दिल्ली- हाल ही में पास हुए बिल के खिलाफ देश भर में किसानों का प्रदर्शन जारी है. प्रदर्शन का सबसे व्यापक असर पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में देखने को मिल रहा है. किसानों के इस भारत बंद के समर्थन में बोलते हुए कांग्रेस की नेता प्रियंका गांधी ने कहा कि सरकार किसानों को बंधुआ मजदूर बनाने की तरफ बढ़ रही है. देश भर के कई हाईवे और रेल मार्गों को बंद कर दिया गया है, और कई राज्यों की सीमाओं को सील कर अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है.

आपको बताते चलें कि इस विवादित किसान बिल के विरोध में हजारों किसान उग्र प्रदर्शन कर रहे हैं. प्रदर्शन कर रहे किसान इस बिल को किसान विरोधी बताकर सरकार से बिल वापस लेने की मांग कर रहे हैं. किसानों के इस प्रदर्शन में कांग्रेस, rjd समेत tmc जैसी कई पार्टियां भी शामिल हैं. इसके अलावा 10 केन्द्रीय किसान संगठनों ने भी किसानों को अपना समर्थन दिया है. इस बीच विरोध प्रदर्शन के बावजूद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस बिल को ऐतिहासिक बताया और विपक्षी पार्टियों पर राजनैतिक फायदे के लिए किसानों को गुमराह करने का आरोप लगाया. सरकार का कहना है कि इस बिल से किसानों को अपनी फसल का बेहतर दाम मिलेगा और किसान अपनी पसंद की किसी भी मंडी में अपनी फसल को बेच सकते हैं.

‘किसानों को गुमराह कर रहे विपक्षी नेता’
BJP नेताओं की एक वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि bjp की अगुआई वाली nda ने इस बिल को लाकर ऐतिहासिक काम किया है. इससे छोटे और मंझौले किसानों को फायदा होगा. इस दौरान प्रधानमंत्री ने विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए किसानों को गुमराह करने का आरोप लगाया. प्रधानमंत्री ने कहा कि जिन लोगों ने किसानों को ठगने का काम किया है, आज वो लोग किसानों के कंधों पर बंदूक रखकर गोली चला रहे हैं.

‘पंजाब-हरियाणा बॉर्डर सील’
किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए अंबाला के पास पंजाब-हरियाणा बॉर्डर को सील कर दिया गया है. साथ ही जगह-जगह बैरिकेड लगाकर पुलिसबलों की संख्या भी बढ़ा दी गई है. इसके पंजाब और हरियाणा पुलिस को हाई अलर्ट पर रखा गया है. फरीदाबाद-कोटकापुरा हाइवे पर भी किसान विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. दिल्ली-अमृतसर हाइवे को भी किसानों ने बंद कर दिया है.

‘अयोध्या-लखनऊ हाइवे भी बंद’
प्रदर्शनकारी किसानों ने अयोध्या-लखनऊ हाइवे को भी बंद कर दिया है. इसके अलावा किसानों के विरोध प्रदर्शन के कारण दिल्ली-मेरठ हाइवे को भी गाजियाबाद के करीब ब्लॉक कर दिया गया है. साथ ही प्रदेश के कई जिलों के किसान भी इस प्रदर्शन में शामिल हुए हैं. प्रदर्शनकारी किसानों ने दिल्ली-नोएडा मुख्य मार्ग को भी बंद कर दिया है.

‘बिहार में बिल के खिलाफ विपक्ष की ट्रैक्टर रैली’
आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए बिहार में राजनीतिक सरगर्मी और भी तेज है. बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने बिल के विरोध में ट्रैक्टर रैली में हिस्सा लिया. पटना में जब नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ट्रैक्ट्रर रैली में शामिल हो रहे थे, उस वक्त हजारों की तादाद में किसान और सुरक्षाबलों के जवान उनके साथ चल रहे थे.

‘दक्षिण भारत में भी बंद का असर’
दक्षिण भारत में भी बंद का असर देखने को मिल रहा है. कर्नाटक राज्य किसान संघ के सदस्यों ने भी कर्नाटक-तमिलनाडू बॉर्डर के पास विरोध प्रदर्शन का आयोजन किया. इस विरोध प्रदर्शन में हजारों की संख्या में किसान शामिल हुए. इस दौरान करीब 250 किसानों को पुलिस ने गिरफ्तार किया. वहीं, तमिलनाडू में किसानों ने मानव कंकालों के साथ हाथ और मुंह बांधकर विरोध प्रदर्शन किया.

‘कांग्रेस लगातार हमलावर’
कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी लगातार बिल का विरोध कर रहे हैं. प्रियंका ने गांधी आज फिर ट्वीट के जरिए केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह बिल किसानों को गुलाम बना देगा, और उनके ज्यादातर अधिकार निजी हाथों में चला जाएगा.

Mission Durachari: यूपी में महिलाओं के साथ छेड़खानी करने वालों का सार्वजनिक स्थानों पर लगेंगे पोस्टर, सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिए निर्देश

Labour Code Bill Passed: विपक्ष के बहिष्कार के बीच राज्यसभा में 3 लेबर कोड बिल पारित, सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित