नई दिल्ली: एक दिन पहले ही भाजपा में शामिल होने वाले राज्य सभा सांसद नरेंश अग्रवाल ने सरकार से एक ऐसा सवाल किया था जिसका उत्तर ढूढ़ पाना मुश्किल है. दरअसल बीजेपी में शामिल होने से पहले ही नरेश अग्रवाल ने राज्य सभा में वित्त मंत्री से सवाल किया था कि क्या मोदी सरकार ये स्वीकार करती है कि नोटबंदी का फैसला सबसे बुरा निर्णय था या नहीं.

दिलचस्प बात ये रही कि जब मंगलवार को वित्त राज्य मंत्री पी. राधाकृष्णन सदन में लिखित जवाब रख रहे थे तब नरेश अग्रवाल बीजेपी के हो गए थे. हालांकि वित्त राज्य मंत्री ने सवाल का जवाब दिया और कहा कि ये सवाल ही पैदा नहीं होता. बता दें कि समाजवादी पार्टी से नाराज नरेश अग्रवाल ने सोमवार को दिल्ली में रेल मंत्री पीयूष गोयल की उपस्थिति में बीजेपी का दामन थाम लिया. वैसे नरेश अग्रवाल जब सपा में थे तब भी वो अपने उल्टे-सीधे बयान को लेकर विवादों में रहे हैं.

संयोग वस बीजेपी ज्वाइन करते वक्त भी नरेश अग्रवाल विवादों में घिर गए, उनके एक कमेंट्स को लेकर विवाद खड़ा हो गया. दरअसल बीजेपी मुख्यालय में नरेश अग्रवाल ने जया बच्चन को लेकर एक टिप्पणी कर दी. जिसके बाद वो विपक्षी दलों के निशाने पर आ गए. यहां तक की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को ट्वीट कर कहना पड़ा कि नरेश अग्रवाल का बीजेपी में स्वागत है लेकिन जया बच्चन जी के विषय में उनकी टिप्पणी अनुचित एवं अस्वीकार्य है. जानकारी के लिए आपको बता दें कि राज्यसभा के नियमों के तहत कोई किसी भी मंत्री को कम से कम 15 दिन पहले ही लिखित रूप में देकर प्रश्न पूछ सकते हैं.

नरेश अग्रवाल को भारी पड़ा जया बच्चन पर दिया बयान, मांगनी पड़ी माफी

भाजपा में शामिल हुए नरेश अग्रवाल, लोग बोले- BJP में गंगा बसे, वाशिंग मशीन में नरेश

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App