बेंगलुरु: बीती रात फेसबुक पोस्ट को लेकर बेंगलुरु में हुई जबर्रदस्त हिंसा के दौरान करोड़ों रूपये के आर्थिक नुकसान की भरपाई वही दंगाई करेंगे जिन्होंने सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया. यूपी मॉडल पर दंगाईयों से वसूली की जाएगी. कर्नाटक के गृहमंत्री बोम्मई ने कहा कि दंगे में हुए नुकसान की भरपाई दंगाइयों की संपत्ति बेचकर ही की जाएगी. गौरतलब है कि बीती रात बेंगलुरू में एक फेसबुक पोस्ट को लेकर दंगे शुरू हो गए जिसमें तीन लोगों की मौत हुई और दर्जनों लोग घायल हुए. इस दौरान करोड़ों रूपये की संपत्ति को दंगाईयों ने आग के हवाले कर दिया. पुलिस ने 110 लोगों को आगजनी, पथराव और पुलिस पर हमले के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

कर्नाटक के पर्यटन मंत्री सीटी रवि ने कहा कि दंगे पहले से सुनियोजित थे. उन्होंने कहा कि संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के लिए पेट्रोल बम और पत्थरों का इस्तेमाल किया गया और इस दौरान 300 से ज्यादा गाड़ियां आग के हवाले कर दी गई. उन्होंने कहा कि हम यूपी की तरह दंगा करने वालों से नुकसान की वसूली करेंगे. गौरतलब है कि यूपी में 19 दिसंबर 2019 को लखनऊ में नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के विरोध में हिंसक प्रदर्शन हुए थे जिसके बाद योगी सरकार ने एलान किया था कि दंगे में हुए नुकसान की भरपाई दंगाइयों की संपत्ति बेचकर ही की जाएगी.

लखनऊ जिला प्रशासन ने पूरे शहर में दंगाइयों के पोस्टर लगवा दिए थे. यूपी सरकार हिंसा के बाद उत्तर प्रदेश रिकवरी ऑफ डैमेज टू पब्लिक एंड प्राइवेट प्रॉपर्टी अध्यादेश-2020 लेकर आई जिसे कैबिनेट से मंजूरी भी मिल गई. इस कानन के तहत आंदोलनों-प्रदर्शनों के दौरान सार्वजनिक या निजी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले दोषियों से ही नुकसान की वसूली भी होगी और उनके पोस्टर भी लगाए जाएंगे. दिसंबर में हुई हिंसा के दर्जनों आरोपियों से वसूली की भी जा चुकी है.

Bengaluru Violence: बेंगलुरु में फेसबुक पोस्ट के बाद भड़की हिंसा में तीन की मौत, कई घायल

MP CM Kamal Nath Resigns: मध्य प्रदेश में कांग्रेस का कमल गिर गया और भाजपा का फूल खिल गया

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर