नई दिल्ली. अयोध्या राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद जमीन विवाद मामले पर सुप्रीम कोर्ट छुट्टी के दिन शनिवार को फैसला सुनाने जा रहा है. अयोध्या केस पर फैसले का देशभर के लोगों को लंबे समय से इंतजार था. पिछले महीने ही 16 अक्टूबर को चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली संविधान पीठ ने अयोध्या मामले पर सुनवाई खत्म की है. सीजेआई गोगोई 18 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं और इससे पहले ही अयोध्या मामले पर फैसला आना तय था. शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या केस के फैसले को शनिवार के लिए लिस्ट किया तो देशभर की नजरें इस मामले पर टिक गई हैं.

अयोध्या राम मंदिर बाबरी मस्जिद केस का फैसला ऐतिहासिक निर्णय होगा. विवादित जमीन का मालिकाना हक राम मंदिर, बाबरी मस्जिद या किस पक्ष के पास जाएगा. सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ ने 40 दिन लगातार इस मामले पर सुनवाई की और हिंदू महासभा, सुन्नी वक्फ बोर्ड, रामलला विराजमान, निर्मोही अखाड़ा, निर्वाणी अखाड़ा समेत सभी पक्षकारों की दलीलें सुनी.

इससे पहले सभी अयोध्या मामले के सभी पक्षों के बीच इसी बीच सीजेआई गोगोई ने साफ कर दिया था कि उनके रिटायरमेंट से पहले ही इस केस की सुनवाई पूरी कर फैसला सुना दिया जाएगा. शीर्ष अदालत ने अयोध्या मामले की आखिरी सुनवाई की तारीख 17 नवंबर तय की थी. मगर अदालत ने एक दिन पहले यानी 16 नवंबर को ही इस केस की सुनवाई खत्म कर ली और फैसला सुरक्षित रख लिया.

इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने सभी पक्षकारों से लिखित में मोल्डिंग ऑफ रिलीफ पर जवाब मांगा था. सभी पक्ष मोल्डिंग ऑफ रिलीफ में भी अपनी-अपनी दलीलों पर कायम रहे हैं. अब देशभर की नजर इस फैसले पर टिक गई है. देशभर के अलग-अलग राज्यों में धारा 144 लागू कर शनिवार को स्कूल-कॉलेजों में छुट्टी कर दी गई है. साथ ही अयोध्या में सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजामात किए गए हैं. सुप्रीम कोर्ट शनिवार सुबह 10.30 बजे बाद अपना फैसला सुनाएगा.

Also Read ये भी पढ़ें-

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले- अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट का जो भी फैसला होगा, उससे किसी की हार जीत नहीं

अयोध्या राम मंदिर बाबरी मस्जिद जमीन विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला 9 नवंबर को, दिल्ली के जामा मस्जिद के शाही इमाम ने कहा- दोनों पक्ष संयम बरतें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App