लखनऊ: अयोध्या में बनने वाले भगवान श्री राम के भव्य मंदिर की तैयारियां जोरों-शोरों से चल रही है. खबर है कि 5 अगस्त को श्रीरामजन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास मणिरामदास छावनी की ओर से 40 किलो चांदी की शिला श्रीराम को समर्पित करेंगे. बताया जा रहा है कि राम मंदिर निर्माण के लिए होने वाले भूमि पूजन में इस शिला को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वैदिक मंत्रोंच्चारण के बीच रामलला की पवित्र भूमि पर स्थापित करेंगे जिसके बाद मंदिर का निर्माणा कार्य शुरू हो जाएगा.

महंत नृत्य गोपाल दास महाराज ने कहा कि साल 1989 में लोगों ने एक शिला और सवा रुपये का दान मंदिर के लिए किया था, इसके साथ ही अनेक लोगों ने अपनी सामर्थ्य के अनुसार भगवान के चरणों में सहायता-सहयोग राशि अर्पित की थी जो भगवान राम के बनने वाले भव्य मंदिर में इस्तेमाल की जाएगी.

इस बीच खबर है कि राम मंदिर के नक्शे में बदलाव किया गया है. अब राम मंदिर दो नहीं बल्कि तीन मंजिला होगा जिसकी कुल लंबाई 268 फीट और चौड़ाई 140 फीट होगी. हालांकि बताया जा रहा है कि राम मंदिर का मूल स्वरूप वही रहेगा यानी गर्भगृह और सिंहद्वार के नक्शे में कोई बदलाव नहीं होगा. राम मंदिर के अग्रभाग, सिंह द्वार, नृत्य मंडप, रंग मंडप और सिंह द्वार को छोड़कर लगभग सबका नक्शा बदला गया है. गौरतलब है कि इससे पहले मंदिर की ऊंचाई 128 फीट थी जिसे अब 161 फीट कर दिया गया है.

इसके अलावा  राम मंदिर में 318 खंभे होंगे. हर तल पर 106 खंभे बनाए जाएंगे. राम मंदिर के नए नक्शे को  वास्तुकार चंद्रकांत सोमपुरा नए सिरे से तैयार करने में जुटे हैं. खबर है कि राम मंदिर में पांच शिखर बनाए जाएंगे. करीब 100 से 120 एकड़ भूमि पर पांच शिखर वाला मंदिर दुनिया में कहीं नहीं है. 

Ram Temple Bhoomi Poojan: राम मंदिर निर्माण की तैयारियां शुरू, 5 अगस्त को अयोध्या में भूमि पूजन करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

Ram Temple Bhoomi Poojan: राम मंदिर निर्माण के लिए 5 अगस्त होगा भूमि पूजन, PM मोदी हो सकते हैं शामिल

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर