असम/ असम की राजनीति में हिमंत बिस्वा सरमा का कद 2016 के बाद लगातार बढ़ा है. उनको भाजपा के भावी नेशनल लेवल नेता के तौर पर भी देखा जाता है। कहने वाले कहते हैं कि मोदी-शाह के ट्रंप कार्ड हैं हिमंत बिस्वा। हिमंत फिर से जीत गए है। हिमंत बिस्वा सरमा 1 लाख वोट से जीते है। असम के जलूकबारी सीट से भाजपा नेता हिमंत बिस्व सरमा की जीत हुई है। उनकी यह लगातार पांचवीं जीत है। इस बार उन्होंने 1,01,911 वोटों के अंतर से जीत दर्ज की है।

निर्वाचन आयोग की वेबसाइट के अनुसार हिमंत बिस्वा सरमा को अभी तक 14254 वोट मिले हैं। वहीं उनके प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस को रोमेन चंद्र बोर्थकुर को 2839 वोट मिले हैं। सरमा के वोटों का प्रतिशत जहां 79 से ज्यादा है वहीं कांग्रेस उम्मीदवार को अभी तक 15 प्रतिशत वोट ही मिले हैं।

मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल, स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्व सरमा और एजीपी प्रमुख एवं मंत्री अतुल बोरा क्रमश: मजूली, जालुकबारी और बोकाखत से आगे चल रहे हैं। कांग्रेस विधायक दल के प्रमुख देबब्रत साइकिया और उनके सहायक रकीबुल हुसैन क्रमश: नाजिरा और समागुरी से पीछे चल रहे हैं।

पिछली बार बीजेपी ने जीती थी 86 सीटें
असम में फिलहाल भाजपा की सरकार है। पिछली बार साल 2016 में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा के खाते में 126 में से 86 सीट आई थीं। कांग्रेस को 26 सीटों पर ही जीत से संतोष करना पड़ा था। इसके अलावा, AIUDF को 13, एजीपी को 14, बीपीएफ को 12 और अन्य के खाते में एक सीट आई थी।

West Bengal Assembly Election Result : पश्चिम बंगाल के आरामबाग में बीजेपी दफ्तर में आगजनी, टीएमसी कार्यकर्ताओं पर लगा आरोप

Covid-19 vaccination In Delhi : सोमवार से दिल्ली में 18 से 45 साल के लोगों को लगेंगे मुफ्त कोरोना के टीके: अरविंद केजरीवाल

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर