ईटानगर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज (15 फरवरी) अरुणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर में सार्वजनिक सभा को संबोधित किया. यहां पीएम ने दोरजी खांडू स्टेट कन्वेंशन सेंटर के अलावा विभिन्न विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया. पीएम ने कहा, जिस अरुणाचल से प्रकाश फैलता है, आने वाले दिनों में भी यहां विकास का एेसा प्रकाश फैलेगा कि पूरा देश देखेगा. पीएम ने कहा कि कई विभाग अब नए सचिवालय में हैं. इसके दूर-दराज के इलाकों में आने वाले ग्रामीणों के लिए आसानी होगी, क्योंकि उन्हें एक से दूसरी जगह नहीं आना पड़ेगा. सब कुछ एक ही जगह पर मिल जाएगा. सहूलियत और समन्वय में इजाफा हुआ है.

पीएम ने कहा, मैं खुद लोगों को बोलूंगा कि अरुणाचल प्रदेश में जाओ और अपनी जरूरी बैठकें कन्वेंशन सेंटर में करो. पीएम ने कहा कि जरूरी बैठकें सिर्फ राजधानी में ही क्यों हों? हमें सभी राज्यों में जाना चाहिए, इसलिए मैं नॉर्थ-ईस्टर्न काउंसिल की बैठक करने के लिए शिलॉन्ग आया और कृषि को लेकर अहम बैठक सिक्किम में हुई. कांग्रेस पर करारा हमला करते हुए पीएम ने कहा कि इस देश में पैसे की कमी नहीं है, लेकिन अगर बाल्टी में छेद हो तो पानी भरेगा क्या? हमारे देश में पहले एेसे ही हुआ है.

पीएम ने कहा कि पिछली बार नॉर्थ-ईस्ट काउंसिल मीटिंग में शरीक होने वाले आखिरी प्रधानमंत्री मोरारजी देसाई थे. उसके बाद किसी प्रधानमंत्री को वक्त नहीं मिला, सब बहुत बिजी थे. लेकिन मैं आप लोगों के लिए आया हूं. पीएम ने कहा कि इसलिए मैंने नॉर्थ-ईस्ट काउंसिल मीटिंग में भाग लिया. पीएम ने कहा कि हेल्थकेयर किफायती और अच्छी क्वॉलिटी का होना चाहिए. हम पूरे देश में मेडिकल कॉलेज बनाने की ओर काम कर रहे हैं. यह इसलिए क्योंकि जब कोई किसी खास इलाके में पढ़ता है तो वह उस जगह की चुनौतियों के बारे में बेहतर जान जाता है.