नई दिल्ली. जम्मू कश्मीर में हुए पुलवामा आतंकी हमले में पाकिस्तान का हाथ नहीं बताने पर बीजेपी नेता और नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री अरुण जेटली ने पाक पीएम इमरान खान को करार जवाब दिया है. अरुण जेटली ने कहा कि पुलवामा में हमले के बाद खुद आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद ने जिम्मेदारी ली तो इससे ज्यादा और क्या सबूत चाहते हैं इमरान खान. अरुण जेटली ने कहा कि जैश के कबूलनामें के बाद भी अब क्या चाहते हैं पीएम इमरान खान.

गौरतलब है कि 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए. इस हमले की जिम्मेदारी मौलाना मसूद अजहर के आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद ने ली. हमले से आक्रोशित भारत ने पाकिस्तान पर कड़ा रुख अपनाते हुए मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा छीन लिया. जिसके बाद मंगलवार को पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने इस मामले में कहा कि भारत सरकार बिना सबूतों के हमारे ऊपर आरोप लगा रही है.

इमरान खान ने कहा कि मैं भरोसा दिलाता हूं, ये नया पाकिस्तान है. हम हर तरह की जांच प्रक्रियाओं में भारत की सहायता करेंगे. साथ ही इमरान खान ने कहा कि पाकिस्तान कश्मीर पर बातचीत के लिए तैयार है. दूसरी ओर जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती ने पाकिस्तान के पीएम इमरान खान के बयान का समर्थन किया है. उन्होंने कहा है कि इमरान खान को एक मौका मिलना चाहिए. बातचीत से ही मसला हल हो सकता है.

Imran Khan on Pulwama Attack: पुलवामा आतंकी हमले पर बोले इमरान खान- बिना सबूत नरेंद्र मोदी सरकार ने लगाए पाकिस्तान पर आरोप

Social Media Reaction on Imran Khan: पाकिस्तान पीएम इमरान खान ने पुलवामा हमले पर मांगे नरेंद्र मोदी सरकार से सबूत तो यूजर्स बोले- अब मुंहतोड़ जवाब देने का वक्त

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App