नई दिल्ली. Arun Jaitley Funeral Ceremony: भाजपा के वरिष्ठ नेता व पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली का निधन हो गया है. अरुण जेटली ने 66 वर्ष की आयु में अंतिम सांस ली. अरुण जेटली पिछले काफी समय से बीमार चल रहे थे और दिल्ली के ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस AIIMS में पिछली 9 अगस्त से भर्ती थे. आज यानी कि 25 अगस्त की सुबह 10.30 बजे से दोपहर 1 बजे तक अरुण जेटली के पार्थिव शरीर को नई दिल्ली स्थित बीजेपी मुख्यालय में अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा. इसके बाद वहीं से अंतिम यात्रा निकाली जाएगी और दोपहर 2.30 बजे निगमबोध घाट पर अरुण जेटली का अंतिम संस्कार किया जाएगा.

बता दें कि एम्स अस्पताल में शनिवार दोपहर 12 बजकर 7 मिनट को अरुण जेटली ने अंतिम सांस ली. इसके बाद उनका पार्थिव शरीर घर लाया गया. अरुण जेटली का पार्थिव शरीर आज सुबह 10.30 बजे बीजेपी मुख्यालय लाया जाएगा. यहां दोपहर 1 बजे तक उनका पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा. इसके बाद बीजेपी मुख्यालय से अरुण जेटली की अंतिम यात्रा निकलेगी और निगमबोध घाट पर दोपहर 2.30 बजे अंतिम संस्कार किया जाएगा.

देश भर के राजनेताओं ने उनके आवास पर पहुंच कर श्रद्धांजलि दी. देश के गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि कहा कि अरुण जेटली के जाने से बीजेपी कार्यकर्ताओं को असहनीय क्षति पहुंची है. देश की सुप्रीम कोर्ट ने एक मेधावी वकील गंवाया है और भाजपा ने अपने यशस्वी नेताओं में से एक नेता गंवाया है. परमात्मा से प्रार्थना है कि उनकी आत्मा को चिर शांति दें. वहीं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है. वहीं राजनाथ सिंह ने कहा कि जेटली के योगदान को कभी नहीं भुलेगा. वे पार्टी, देश और सरकार के लिए एक पूंजी की तरह थे. अब वे हमारे बीच नहीं हैं, मैं उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं.

बहरीन दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बहरीन की राजधानी मनामा में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘मैं बड़ा दुविधा में हूं, एक तरफ कर्तव्य से बंधा हुआ हूं और दूसरी तरफ एक दोस्त के जाने का गम है. उन्होंने कहा कि आज मेरा भाई मेरा दोस्त नहीं रहा’.

PM Narendra Modi in Beharin: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बहरीन में भारतीय समुदाय को किया संबोधित, अरुण जेटली के निधन पर भावुक होकर पीएम बोले- मेरा दोस्त, मेरा भाई चला गया

Arun Jaitley Death: दो बड़े नेताओं के निधन से बीजेपी को भारी नुकसान, अरुण जेटली और सुषमा स्वराज पहली नरेंद्र मोदी सरकार में थे अहम पदों पर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App