नई दिल्ली: महाराष्ट्र में शिवेसना-बीजेपी गठबंधन खत्म होने के बाद फंसे सियासी संकट के बीच केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए इंटरव्यू में विपक्ष पर जोरदार हमला बोला. उन्होंने शरद पवार की एनसीपी और सोनिया गांधी की कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य में विपक्ष भ्रांति फैलाकर सहानुभूति लेने की कोशिश कर रहा है. महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी का बचाव करते हुए अमित शाह ने कहा कि जिसके पास बहुमत है वो राज्यपाल से मिलकर सरकार बना सकता है.

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि जिनके भी पास बहुमत है वे विधायक इकट्ठा होकर राज्यपाल के पास जाएं और सरकार बनाएं. अमित शाह ने कहा कि राष्ट्रपति शासन से बीजेपी को नुकसान है. शिवसेना के साथ बातचीत के सवाल पर अमित शाह ने कहा कि बंद कमरे में हुई बातचीत को वो सार्वजनिक नहीं कर सकते लेकिन उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा कि वो शिवसेना की शर्तों को नहीं मान सकते हैं. 

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा की इससे पहले किसी राज्य में सरकार बनाने के लिए 18 दिनों का समय नहीं दिया गया. अमित शाह ने कहा कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने 9 नवंबर को विधानसभा कार्यकाल पूरा होने के बाद ही राजनीतिक दलों को आमंत्रित किया. लेकिन इस दौरान न हमने (भाजपा), न कांग्रेस, शिवसेना और न ही एनसीपी ने सरकार बनाने का दावा किया.  

गृहमंत्री अमित शाह ने आगे कहा कि महाराष्ट्र में  राज्यपाल ने संविधान के नियमों का पालन किया है. अगर किसी भी पार्टी पर संख्या बल है तो वे जाकर राज्यपाल से संपर्क कर सकती है.

Maharashtra Shiv Sena NCP Congress Govt Politics Latest Updates: महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन, सरकार बनाने को लेकर एनसीपी-कांग्रेस और शिवसेना में बैठकों का दौर जारी, संजय राउत बोले- हमारा ही होगा अगला सीएम

Shiv Sena warns BJP: राष्ट्रपति शासन के खिलाफ याचिका पर सुनवाई से पहले शिवसेना के मुखपत्र सामना का बीजेपी पर हमला- कश्मीर में महबूबा और बिहार में नीतीश को किसने CM बनाया था?

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App