नई दिल्ली। गृह मंत्री अमित शाह चार से छह मई तक बंगाल के दो दिवसीय दौरे पर रहेंगे. यहां सरकारी कार्यक्रमों में शिरकत करने के अलावा वह पार्टी नेताओं के साथ बैठकें भी करेंगे. अब तक के कार्यक्रम के अनुसार शाह 4 मई की रात को कोलकाता पहुंचेंगे. अगले दिन 5 मई को वह सबसे पहले उत्तर 24 परगना जिले के हिंगलगंज जाएंगे और सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के कार्यक्रम में शामिल होंगे. इसके बाद वह उत्तर 24 परगना के हरिदासपुर में बीएसएफ के कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगे और वहां एक संग्रहालय की आधारशिला रखेंगे. वहां से शाह उत्तर बंगाल के दार्जिलिंग जिले के सिलीगुड़ी जाएंगे और रेलवे इंस्टीट्यूट ग्राउंड में एक जनसभा को संबोधित करेंगे.

इन कार्यक्रमों होंगे शामिल

गृह मंत्री के 5 मई को दार्जिलिंग में विभिन्न राजनीतिक और गैर-राजनीतिक संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक करने की भी संभावना है. इसके बाद, शाह 6 मई को उत्तर बंगाल के कूचबिहार जिले में जाएंगे और वहां के तिनबीघा कॉरिडोर में बीएसएफ के कार्यक्रम में शिरकत करेंगे. फिर उनका उसी दिन दोपहर में कोलकाता लौटने का कार्यक्रम है. यहां वह राज्य के शीर्ष भाजपा नेताओं के साथ बैठक करेंगे और फिर उसी दिन वापस दिल्ली के लिए उड़ान भरेंगे.

गौरतलब है कि पिछले साल मार्च-अप्रैल में बंगाल में हुए विधानसभा चुनाव में पार्टी की हार के बाद शाह का यह पहला राज्य दौरा होगा. तब से उपचुनावों और नगर निगम चुनावों में भी पार्टी का प्रदर्शन दयनीय रहा है. पार्टी हाल ही में आसनसोल लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में तीन लाख से अधिक मतों से हार गई, जिसे उसने 2019 में लगभग दो लाख मतों के अंतर से जीता था. कई मायनों में वाम मोर्चा के उम्मीदवार वोट प्रतिशत के मामले में दूसरे और भाजपा तीसरे स्थान पर रही. वहीं पार्टी की लगातार हार से प्रदेश भाजपा में भी भारी असंतोष देखने को मिल रहा है. ऐसे में शाह का दौरा अहम माना जा रहा है.

यह भी पढ़े:

गुरुग्राम के मानेसर में भीषण आग, मौके पर दमकल की 35 गाड़ियां

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर