जम्मू-कश्मीर: बाबा बर्फानी की पवित्र अमरनाथ यात्रा 28 जून 2018 से शुरू हुई, पिछले 36 घंटों से खराब मौसम की वजह से लगातार हो रही बारिश ने यात्रा में खलल डाल दिया जिस कारण लोग फंस गए हैं. मिली जानकारी के मुताबिक, बालटाल रूट पर पिछले दो दिनों से बारिश के बाद भूस्खलन की वजह से आज 29 जून 2018 को इस रूट पर यात्रा को रोकना पड़ा. पुलिस अधिकारी ने जानकारी देते हुए कहा कि भूस्खलन की वजह से काली माता ट्रैक क्षतिग्रस्त हो गया था, इसलिए इस रूट को रोक दिया गया. बालटाल रूट पर 2-3 जगह रास्ता टूट गया है, मरम्मत का काम किया जा रहा है लेकिन बारिश के कारण काम में बाधा आ रही. फिलहाल ऐसी संभवाना तो नहीं है कि इस रूट पर यात्रा को शुरू किया जाएगा.

28 जून 2018 को भी बारिश की वजह से यात्रा को रोकना पड़ा था लेकिन कुछ समय बाद यात्रा एक बार फिर शुरू हो गई थी. आप लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि बाबा बर्फानी की गुफा समुद्र तल से 12,756 फीट की ऊंचाई पर स्थित है. यदि पहलगाम रास्ते से जाएं तो भक्तों को चार दिन का समय लगता है. अमरनाथ यात्रा के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं, आर्मी, पैरीमिलीट्री फोर्स, राज्य पुलिस और नेश्नल डिजाजटर रेस्पोंस फोर्स के लगभग 40,000 सुरक्षाकर्मी तैनात रहेंगे.

अमरनाथ यात्रियों की सुरक्षा के लिए बेहतर तकनीक और ज्यादा सैनिक तैनात करेगी सरकार

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App