नई दिल्ली, अक्षय तृतीया साल के चार सबसे शुभ मुहूर्तों में से एक मानी जाती है, यानि इस दिन बिना किसी मुहूर्त के कोई भी मांगलिक कार्य किया जा सकता है. जैसे गृह प्रवेश, विवाह, मुंडन आदि. हिंदू पंचांग के अनुसार, अक्षय तृतीया का त्योहार इस साल मंगलवार, 3 मई को देश भर में मनाई जा रही है. इस दिन ग्रहों का भी अद्भुत संयोग बन रहा है जिससे अक्षय तृतीया का महत्व और भी ज्यादा बढ़ गया है. कहा जा रहा है अक्षय तृतीया पर दोबारा ऐसा शुभ संयोग 100 साल बाद ही बनेगा. अक्षय तृतीया के दिन सोना-चांदी या नई चीजों की खरीदारी करना बहुत ही शुभ माना जाता है.

करें ये उपाय

अक्षय तृतीया के लिए 11 गोमी चक्रों को लाल रेशमी कपड़े में बांधकर चांदी की डिब्बी में रखकर पूजा स्थान में रखने से घर में हमेशा सुख, शांति समृद्धि आती है. वहीं, 27 गोमती चक्रों को पीले या लाल रेशमी वस्त्र में बांधकर अपने कार्यालय के मुख्य द्वार पर बांधने से व्यापार में अनिश्चित धन लाभ होता है. अगर आपके कर्मछेत्र में बाधाएं आ रही हैं तो अक्षय तृतीया के दिन शिवालय में शिवलिंग पर 11 गोमती च्रक अपनी मनोकामना का स्मरण करते हुए अर्पित करने से आपको अवश्य लाभ होगा.

अक्षय तृतीया का शुभ मुहूर्त

अक्षय तृतीया मंगलवार, मई 3, 2022 को मनाई जाएगी. अक्षय तृतीया के दिन पूजा का शुभ मुहूर्त सुबह 05 बजकर 59 मिनट से दोपहर 12 बजकर 26 मिनट तक रहेगा. पूजा की अवधि 06 घण्टे 27 मिनट्स की है. बता दें तृतीया तिथि 3 मई 2022 को सुबह 05 बजकर 18 मिनट से लेकर 04 मई 2022 की सुबह 07बजकर 32 मिनट तक है. वहीं, अक्षय तृतीया के दिन खरीदारी का शुभ मुहूर्त 3 मई 2022 की सुबह 05 बजकर 59 मिनट से लेकर 4 मई 2022 को सुबह 05 बजकर 38 मिनट तक है.

 

जोधपुर हिंसा: झंडा लगाने को लेकर दो पक्षों में पत्थरबाजी, 3 पुलिसकर्मी घायल

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर