प्रयागराज. ख़बर प्रयागराज से है जहाँ, देश भर में अपने बयान से सुर्खियों में रहने वाले अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है. उनका शव अल्लापुर में बांघबरी गद्दी मठ के कमरे में फंदे से लटका मिला है, बताया जा रहा है कि पांच पेज का एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है जिसमें उन्होंने अपनी मौत के लिए अपने एक शिष्य को जिम्मेदार ठहराया है. आपको बता दें कि संगम तट स्थित लेटे हनुमान मंदिर के महंत स्वामी नरेंद्र गिरि और उनके शिष्य चर्चित योग गुरू आनंद गिरि के बीच पिछले दिनों विवाद सुर्खियों में रहा था, आनंद गिरि को अखाड़ा परिषद तथा मठ बाघंबरी गद्दी के पदाधिकारी के पद से निष्कासित कर दिया गया था.

महंत नरेंद्र गिरि के निधन पर अखिलेश यादव ने दी श्रद्धांजलि

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत पर उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया उन्होंने लिखा- अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष पूज्य नरेंद्र गिरी जी का निधन, अपूरणीय क्षति! ईश्वर पुण्य आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान व उनके अनुयायियों को यह दुख सहने की शक्ति प्रदान करें. भावभीनी श्रद्धांजलि.

यह भी पढ़ें :

 

Uma Bharti’s Controversial Remark: ब्यूरोक्रेसी की कोई औकात नहीं, वो हमारी चप्पल उठाती है, वीडियो वायरल

RRC Recruitment 2021: उत्तर रेलवे में निकलीं 10वीं पास के लिए 3000 से ज्यादा नौकरियां, आवेदन प्रक्रिया आज से शुरू

 

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर