Monday, January 30, 2023

अग्निपथ योजना पर भड़के युवाओं को शांत करने के लिए सरकार ने दी सफाई

नई दिल्ली, केंद्र सरकार की सेना में भर्ती की ‘अग्निपथ’ योजना के खिलाफ देशभर में युवाओं का आक्रोश देखने को मिल रहा है. बिहार से हरियाणा तक आंदोलन आक्रमक होता जा रहा है. कहीं गाड़ियों में आग लगा दी गई तो कहीं ट्रेन की पटरियां ही उखाड़ दी गई, ऐसे में सरकार युवाओं को स्कीम के फायदे समझाने की कोशिश कर रही है, वहीं विपक्ष का कहना है कि इस योजना के जरिए युवाओं के भविष्य के साथ खेला जा रहा है और ये सेना की गरिमा को भी कम करता है.

सरकार ने जारी की फैक्ट शीट

agnipath_facts_1655372593

अग्निपथ योजना के विरोध में भड़के युवाओं को समझाने के लिए अब सरकार ने अनौपचारिक रूप से एक फैक्ट शीट जारी की है. इसका टाइटल है, ‘ अग्निपथ, मिथक बनाम तथ्य’ इस शीट के जरिए सरकार ने अपना पक्ष रखा है, इस योजना को लेकर जो सवाल उठाए जा रहे हैं उनके जवाब देने की कोशिश की गई है.

अग्निवीरों का भविष्य असुरक्षित?

सरकार का कहना है कि जो लोग व्यवसाय करना चाहेंगे उन्हें वित्तीय सहायता और लोन उपलब्ध करवाया जाएगा और जो लोग आगे की पढ़ाई करना चाहेंगे उन्हें कक्षा 12 के समान सर्टिफिकेट दिया जाएगा और आगे की पढ़ाई के लिए ब्रिजिंग कोर्स करवाया जाएगा, वहीं जो लोग नौकरी चाहते हैं उन्हें सीएपीएफ और राज्यों की पुलिस भर्ती में वरीयता दी जाएगी.

युवाओं के लिए अवसर

सरकार के मुताबिक अग्निपथ स्कीम के जरिए युवाओं को कई मौके दिए जाएंगे, आने वाले सालों में वर्तमान से तीन गुनी ज्यादा भर्तियां होंगी.

बिहार में हो रहा विरोध

अग्निपथ योजना का देशभर में विरोध किया जा रहा है. इसी कड़ी में गोपालगंज में अग्निपथ योजना का विरोध कर रहे अभ्यर्थियों ने उग्र प्रदर्शन किया, सिधवलिया में गोरखपुर-पाटलिपुत्र एक्सप्रेस ट्रेन में आग लगा दी गई, ट्रेन की बोगी पूरी तरह से जल गई है.

वहीं, नवादा में अग्निपथ आंदोलन के बीच उग्र प्रदर्शनकारियों ने जिला भाजपा कार्यालय में तोड़फोड़ कर उसे आग के हवाले कर दिया गया, भाजपा कार्यालय को बुरी तरह नुकसान पहुंचा है.

 

LPG Gas: महंगाई की मार, नया रसोई गैस कनेक्शन लेना हुआ 750 रुपये महंगा

Latest news