नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली में एक सफाई कर्मचारी अनिल की सीवर साफ करते हुए दम घुटने से मौत हो गई. जिसके बाद एक फोटो वायरल हुआ जिसमें अनिल के शव के पास उसका बच्चा रो रहा है. इस फोटो को देखकर लोगों का दिन पसीज गया और सोशल मीडिया के सहारे ही मृतक के परिवार के लिए 50 लाख रुपए से ज्यादा रकम जमा कर ली गई. लेकिन अब जैसे ही पैसा बीच में आया तो अनिल के परिवार और कथित पत्नी के बीच भिड़ंत हो गई. और इसी दौरान चौंकाने वाला खुलासा हुआ. एक न्यूज चैनल जब अनिल के घर पहुंचा तो उसके माता-पिता ने बताया कि खुद को अनिल की पत्नी बताने वाली रानी उसकी मौसी है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अनिल के परिजनों ने यह जानकारी दी है कि जो बच्चा वायरल फोटो में अनिल के शव के पास खड़ा रो रहा है. वह उसका बेटा नहीं बल्कि उसकी मौसी का बेटा है. वहीं जो रानी अनिल की पत्नी बताई जा रही थी, वो अनिल की पत्नी नहीं बल्कि मौसी है. जिसका पति घरेलु झगड़ों के कारण उससे दूर मुंबई में रहता है. अनिल के परिवार ने बताया कि अनिल अभी तक शादी ही नहीं हुई थी. अनिल की मां सरोज ने बताया कि रानी उनकी छोटी बहन है. वह अनिल की पत्नी होने का ढोंग पैसे के लिए कर रही है. यहां तक की उसने मुझे अनिल के अंतिम संस्कार तक में शामिल नहीं होने दिया.

सरोज ने आगे कहा कि रानी के अपने पति से तीन बच्चे हैं. उसका पति मुंबई में कहीं रहता है. इसके साथ ही सरोज ने दुख जताते हुए कहा कि मीडिया ने उनसे एक भी बार बात नहीं की. उनका ध्यान और सहानुभूती सिर्फ रानी के लिए रही. वहीं अनिल के पिता दीन दयाल ने बताया कि हमारे 8 बच्चे हैं और सिर्फ अनिल ही एक कमाने वाला था. उसके जाने के बाद हम कैसे जिएंगे. वहीं अनिल के पिता ने कहा किसी ने फोटो के लेकर जांच नहीं की और सारा पैसा गलत अकाउंट यानि रानी के बैंक अकाउंट में भेज दिया गया.

सरकारी आंकड़ों में देशभर में सीवर में 123 लोग मरे, NGO का दावा- अकेले दिल्ली में 400 से ज्यादा सफाई कर्मियों की जान गई

सीवर टैंक में सफाई करने के दौरान हुई मजदूर की मौत, पिता का शव पकड़कर पापा पापा पुकारता रहा मासूम बेटा

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर