नई दिल्ली. Afghanistan  अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में सैन्य अस्पताल के बाहर मंगलवार को हुए बम विस्फोट में तालिबान के टॉप कमांडर के मारे जाने की खबर है. यह जानकारी तालिबान के अधिकारियों ने दी है. हमदुल्लाह मुखलिस (Hamdullah Mukhlis) हक्कानी नेटवर्क का सदस्य था. वह काबुल मिलिट्री कॉर्प्स का अफसर था. बता दें हमदुल्लाह तालिबान द्वारा काबुल पर कब्जा करने बाद मारे जाने वाला सबसे वरिष्ठ कमांडर है. हमदुल्लाह मुखलिस को सैन्य अस्पताल में हमले की ख़बर मिली थी जिसके बाद वे अस्पताल पहुंचे थे. हमदुल्लाह मुखलिस विरोधियों के साथ झड़प के दौरान मारे गए थे.

आईएस खुरासान ने ली हमले की जिम्मेदारी
आधिकारिक जानकारी के मुताबिक इस हमले में 19 लोगों के मारे जाने की ख़बर है, साथ ही 50 लोग घायल बताए जा रहे हैं. तालिबान के विपक्षी गुट इस्लामिक खुरासान ने इस हमले की जानकारी ली है. अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद आईएस खुरासान बड़े-बड़े हमलों को अंजाम दे रहा है.इस हमले के बाद काबुल में अफरातफरी मच गई है और लोग डरे हुए है.

इससे पहले काबुल एयरपोर्ट और कुंदुज शहर में विस्फोट

आपको बता दें इससे पहले भी अफगानिस्तान के कुंदुज शहर में शिया मस्जिद में लोगों पर आत्मघाती हमले में 55 लोगों की मौत हो गई थी. वही 26 अगस्त को काबुल एयरपोर्ट पर हुए आत्मघाती बम विस्फोट में 169 अफगान और 13 अमेरिकी सैनिक समेत कुल 182 लोगों की मौत हो गई थी.

अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने जगह-जगह कई हमले किए हैं. 2017 में इसी तरह के एक हमले में 30 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी. तालिबान द्वारा अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद क्षेत्र में इस तरह की घटनाएं आम हो गई हैं.

यह भी पढ़ें:

COP26 Summit: भारत के 5 सूत्रीय एजेंडे के बाद दुनिया ने मीथेन, वनों की कटाई में कटौती करने का लिया संकल्प

Relationship: रिलेशनशिप को कैसे बनाएं बेहतर

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर