अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद देश छोड़कर भागे राष्ट्रपति अशरफ गनी के ठिकाने का पता चल गया है. वह UAE के अबू धाबी में हैं, इसकी पुष्टि खुद वहां के विदेश मंत्रालय ने किया है और कहा है कि संयुक्त अरब अमीरात यानी यूएई ने उन्हें मानवीय आधार पर शरण दी है. अशरफ गनी ने देशवासियों को पैगाम भेजा है कि वह भागे नहीं हैं, सुरक्षा एजेंसियों के कहने पर ऐसा किया, यदि ऐसा नहीं करते तो कत्लेआम मच जाता और वतन वापसी को लेकर बातचीत चल रही है. जो पूरी बात नहीं जानते उनके बारे में फैसला न सुनाएं.

Afghanistan Crisis: 20 साल बाद कंधार पहुंचे अब्दुल गनी बरादर, बन सकते हैं राष्ट्रपति

Afghanistan Crisis: काबुल में पहली बार बोला तालिबान, कहा- सबको देंगे आम माफी और महिलाओं को अधिकार