नई दिल्ली. तालिबान ने सत्ता पर काबिज होते ही भारत के साथ आयात और निर्यात दोनों ही बंद कर दिया है। फेडरेशन ऑफ इंडिया एक्सपोर्ट ऑर्गनाइजेशन के डॉ. अजय सहाय ने इस बात की पुष्टि की है।

अजय सहाय ने कहा कि तालिबान ने इस वक्त सभी कार्गो मूवमेंट को रोक दिया है। हमारा माल अक्सर पाकिस्तान के रास्ते ही सप्लाई होता था, जो अभी रोक दिया गया है। अफगानिस्तान की स्थिति पर हमारी नज़र बनी हुई है, ताकि हम सप्लाई को शुरू कर सकें। लेकिन मौजूदा वक्त में तालिबान ने एक्सपोर्ट-इम्पोर्ट रोक दिया है।

बड़े स्तर और होता है ट्रेड

डॉ. अजय सहाय के मुताबिक, बिजनेस के मामले में भारत अफगानिस्तान का सबसे बड़ा पार्टनर है. साल 2021 में ही हमारा एक्सपोर्ट 835 मिलियन डॉलर था, जबकि 510 मिलियन डॉलर का इम्पोर्ट है। इम्पोर्ट-एक्सपोर्ट के अलावा भारत द्वारा अफगानिस्तान में बड़े स्तर पर इनवेस्टमेंट भी किया गया है, जिसमें करीब 400 योजनाओं में 3 बिलियन डॉलर इन्वेस्टमेंट है।

Afghanistan Crisis: अफगानिस्तान प्रेसिडेंट अशरफ गनी अबू धाबी में, वतन वापस लौटेंगे

Munawwar Rana Controversial Statement : तालिबान ने सही किया, अपने देश को आजाद कराया: मुनव्वर राना

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर