नई दिल्ली. अफगानिस्तान संकट के बीच इस खबर ने सबको चौंका दिया है कि वहां के राष्ट्रपति रहे अशरफ गनी भागते समय बहुत सारा कैश हेलीकॉप्टर में भरकर ले गये थे और जो हेलीकॉप्टर में नहीं आ सका उसे रनवे पर छोड़ दिया था. रूसी दूतावास के कर्मचारी के हवाले से ये खबर आने के बाद गनी की काफी देश में व विदेश में आलोचना हो रही है. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने देश संबोधित करते हुए भी अशरफ गनी और वहां की सेना पर हमला बोला.

उन्होंने बताया कि अमेरिका ने किस तरह 20 साल पहले अफगानिस्तान आया और अल-कायदा व ओसामा बिन लादेन को खत्म किया. अमेरिका का सेना वापसी का फैसला बिल्कुल सही है. अफगान सेना और सरकार ने बिना लड़े हथियार डाल दिये. अमेरिका आंतकवाद से लड़ने गया था किसी देश का विकास करने नहीं, यदि देश की कोई अंदरुनी समस्या है तो उस देश की जिम्मेदारी है.

Kaushambi Child Death: ड्यूटी पर तैनात स्टाफ मोबाइल पर लगे रहे, वार्मर मशीन में रखे नवजात की मौत

Covid Vaccine : केंद्र सरकार ने केरल को वैक्सीन की 1.10 करोड़ खुराक देने का वादा किया

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर