नई दिल्ली. नरेंद्र मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल का पहला बजट 2019 के लिए जुलाई में पेश किया था. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस बजट सत्र में घोषणा की थी कि अब से जहां-जहां पैन कार्ड का इस्तेमाल किया जाता है उसकी जगह आधार कार्ड का इस्तेमाल किया जा सकता है. इस बारे में अब ध्यान देना इसलिए आवश्यक है क्योंकि पैन कार्ड का सबसे ज्यादा इस्तेमाल आईटीआर भरने में किया जाता था. आईटीआर भरने के लिए आखिरी दो दिन बचे हैं. इस कारण जिन लोगों के पास पैन कार्ड नहीं हैं उन्हें एक बार फिर याद करवा दें कि वो इसकी जगह आधार कार्ड का इस्तेमाल भी कर सकते हैं.

केवल आईटीआर भरने के लिए ही नहीं बल्कि आधार कार्ड का इस्तेमाल पैन कार्ड की जगह ज्यादा बड़ी रकम में कैश निकालने, कैश जमा करने के लिए भी किया जा सकता है. बता दें कि इन नियमों में बदलाव के पीछ सरकार ने कारण दिया था कि ये ब्लैक मनी रोकने, डिजिटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा दैने और देश में पारदर्शिता लाने के लिए किया गया है.

पैन और आधार के नियमों में हुए बदलाव

  1. जिनके पास पैन कार्ड नहीं है वो आधार कार्ड नंबर देकर टैक्स रिटर्न, आईटीआर फाइल कर सकते हैं.
  2. 50 हजार रुपए से ज्यादा का कैश ट्रांजैक्शन करने पर पैन नंबर की जगह आधार नंबर दे सकते हैं. बैंक में 50 हजार रुपए से ज्यादा जमा करने पर भी आधार नंबर दे सकते हैं.
  3. किसी भी तरह के एक बिल पर 50 हजार रुपए के कैश पेमेंट या विदेश यात्रा में 50 हजार रुपए खर्च करने पर आधार नंबर दें.
  4. इंश्योरेंस कंपनी के 50 हजार रुपए के प्रीमियम पेमेंट पर आधार नंबर दे सकते हैं.
  5. 2 लाख रुपए से ज्यादा का सोना खरीदने पर आधार नंबर दे सकते हैं.
  6. फोर व्हीलर (चार पहिया) वाहन खरीदने पर आधार नंबर दे सकते हैं.
  7. क्रेडिट कार्ड की अर्जी के लिए आधार नंबर दे सकते हैं.
  8. बिना लिस्टेड कंपनी के 1 लाख रुपए से ज्यादा के शेयर खरीदने पर आधार नंबर दें.
  9. 10 लाख रुपए से ज्यादा की अचल संपत्ति खरीदने पर आधार नंबर दे सकते हैं.
  10. म्यूचुअल फंड निवेश और शेयरों की खरीद बिक्री पर आधार नंबर दें.

बता दें कि ये सभी नियम सरकार द्वारा फाइनेंस बिल को लागू करने के बाद से इस्तेमाल में आ गए हैं. ये सभी उन जगहों पर कर सकते हैं जहां पहले पैन कार्ड का इस्तेमाल किया जा रहा था.

How To Download E-Pan Card Free: ई-पैन कार्ड ऑनलाइन फ्री में डाउनलोड करने के लिए ये आसान प्रोसेस करें फॉलो, घर बैठे हो जाएगा काम

ITR Verifictaion E Filling Account: ई-फाइलिंग अकाउंट में लॉगिन के बिना इनकम टैक्स रिटर्न आईटीआर को कैसे करें वेरिफाई, जानें डिटेल्स

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App