पटना. लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के अध्यक्ष व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने चुनाव के बाद पहली बार कहा कि यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह हार नहीं, बल्कि बिहार की है. पासवान की नजर में चुनाव एक ‘खेल’ है. उन्होंने कहा कि एनडीए विकास के मुद्दे पर बिहार चुनाव लड़ा था, लेकिन हार मिली.
 
एनडीए इस हार को ‘खेल भावना’ की तरह ले रही है. बिहार चुनाव में हार पीएम मोदी की हार कहने पर पासवान ने कहा कि इस चुनाव में तो प्रधानमंत्री ने जबरदस्त रैलियां कीं और लोग भी जमकर उनकी बात सुनने आए तो वो कैसे हारे. पूरा चुनाव बिहार में विकास के नाम पर लड़ा गया था. इसलिए ये विकास की हार है. मैं तो पीएम मोदी और शाह का शुक्रियादा करता हूं. जिन्होंने एनडीए का पूरा चुनावी कमान अपने हाथों में लिया था. 
 
एनडीए की हार के कारण पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि एनडीए को यह विश्वास था कि महागठबंधन में शामिल दलों का वोट स्थानांतरित होगा, लेकिन ऐसा नहीं हो सका. पासवान ने कहा कि एनडीए को मिली हार के लिए सभी घटक दलों को मिलकर समीक्षा करनी चाहिए. उन्होंने बताया कि लोजपा 28 नवंबर को अपनी हार की समीक्षा करेगी. 
 
पासवान ने नीतीश कुमार की नई सरकार को बधाई देते हुए कहा कि नीतीश अब जनता की आकांक्षाओं पर खरा उतरें. नीतीश मंत्रिमंडल में सिर्फ दो महिलाओं को प्रतिनिधित्व दिए जाने पर टिप्पणी करते हुए पासवान ने कहा कि चुनाव के दौरान नीतीश ने महिलाओं के लिए सरकारी नौकरी में 35 प्रतिशत आरक्षण देने का वादा किया था, लेकिन मंत्रिमंडल गठन में यह वादा नजर नहीं आ रहा है. 
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App