नई दिल्ली. नेशनल इनवेस्टि‍गेशन एजेंसी (NIA) ने अलर्ट जारी कर कहा है कि फिलहाल भारत के लिए ISIS से ज्यादा बड़ी फ़िक्र का मसला SIMI( स्टूडेंट इस्लामिक मूवमेंट ऑफ़ इंडिया) के चार भगोड़े आतंकी हैं. NIA का कहना है कि इन आतंकियों का पकडे जाना ज़रूरी है नहीं तो ये लोग किसी बड़ी वारदात को भी अंजाम दे सकते हैं. 
 
NIA को दो साल से दे रहे हैं चकमा
इन चारों ने मोबाइल फोन की बजाय पब्लि‍क टेलि‍फोन बूथ का इस्तेमाल कर जांच एजेंसी को चकमा दे रखा है. पिछले साल यूपी के बिजनौर में हुए धमाकों के मामले में भी एनआईए ने 12 नवंबर को इन चारों के खिलाफ मामला दर्ज किया था. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, एनआईए की दिल्ली, मुंबई और भोपाल यूनिट के एक दर्जन से भी ज्यादा अधिकारियों की टीम इन आतंकवादियों का पता लगाने के लिए काम कर रही है.
एक शीर्ष सुरक्षा अधिकारी ने बताया, ‘ये आतंकवादी हाल में पकड़े जाने से बाल-बाल बचे. आतंकवादी टेलिफोन बूथ का इस्तेमाल कर रहे हैं और गुड़गांव के आसपास एक ऐसे ही बूथ का हमने पता भी लगा लिया था, लेकिन जब तक एनआईए की टीम वहां पहुंचती, आतंकी फरार हो चुके थे. ये चारों वास्तविक खतरा हैं और भारत में आईएसआईएस के मुकाबले इनके हमलों की आशंका ज्यादा है.’
 
 
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App