रांची. योगगुरु बाबा रामदेव ने कहा है कि जिसकी चाकरी करके शाहरुख खान को पद्मश्री मिला, उसे खुश करने के लिए वो असहिष्णुता की बात कर रहे हैं. बाबा ने कहा कि शाहरुख अगर देशभक्त हैं तो पद्मश्री मिलने के बाद की सारी कमाई दान कर दें या प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा करा दें.
 
शाहरुख को 2005 में पद्मश्री सम्मान मिला था और तब देश में कांग्रेस की अगुवाई वाली यूपीए सरकार थी. बाबा रामदेव ने साफ तौर पर यही कहा है कि कांग्रेस ने ये सम्मान शाहरुख को दिया था इसलिए कांग्रेस को खुश करने के लिए वो असहिष्णुता की बात कर रहे हैं.
 
रामदेव ने कहा ‘अगर शाहरुख सच्चे देशभक्त हैं तो उन्हें पद्मश्री सम्मान मिलने के बाद की अपनी सारी कमाई दान कर देनी चाहिए या फिर पीएम राहत कोष में डाल देना चाहिए. नहीं तो यह समझा जाएगा कि जिसकी चाकरी करके अवार्ड लिया गया है उसे खुश करने के लिए ही वे असहिष्णुता की बात कर रहे हैं.’
 
रामदेव और शाहरुख के बीच पहले भी तकरार दिखी है. 2011 में भष्टाचार के खिलाफ और काला धन वापस लाने के बाबा के आंदोलन को शाहरुख ने राजनीति का मुखौटा बताकर समर्थन देने से इनकार कर दिया था.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App