नई दिल्ली. 1984 के सिख दंगा पीड़ि‍तों को चेक बांटने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने देश में सांप्रदायिक घटनाओं को लेकर कहा कि  1984 के दंगों के आरोपियों को सजा मिल जाती तो गुजरात और दादरी जैसे कांड सामने नहीं आते.
 
उन्होंने कहा कि इस मामले पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की चिंता को जायज ठहराया. 
 
सीएम ने दिल्ली के तिलकनगर में पांच-पांच लाख के मुआवजे का चेक बांटा. इस राहत राशि से करीब 2600 परिवारों को फायदा होगा. बता दें कि बीते साल केंद्र सरकार ने सिख दंगा पीडि़तों को पांच-पांच लाख रुपए की राशि देने का ऐलान किया था, लेकिन कुछ परिवारों को ही यह राशि मिल पाई.
 
दिल्ली सरकार ने इस संबंध में केंद्र सरकार को पत्र लिखकर जल्द राहत राशि वितरित करने की मांग रखी थी, मामला विधानसभा में भी उठा था, लेकिन केंद्र की तरफ  से राहत राशि न मिलने के बाद दिल्ली सरकार ने अपने राजस्व से यह राशि वितरित करने का फैसला किया है.
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App