नागपुर. आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने बीफ विवाद पर चुप्पी तोड़ते हुए कहा है कि अफ्रीकी देश केन्या में लोग जरूरत होने पर गाय का खून तो पीते हैं लेकिन उसे मारते नहीं.
 
भागवत ने नागपुर में एक कार्यक्रम में बीफ विवाद पर सीधे-सीधे कुछ नहीं बोला लेकिन इशारों में उन्होंने साफ कर दिया कि गाय की हत्या संघ को मंजूर नहीं है.
 
पेशे से पशु चिकित्सक रहे संघ प्रमुख भागवत ने कहा कि केन्या में गोहत्या पर प्रतिबंध है इसलिए जरूरत होने पर वहां के लोग एक ट्यूब को गाय के वेन में डालकर खून पी लेते हैं लेकिन इस बात की गारंटी करते हैं कि इस वजह से गाय की मौत न हो जाए.
 
हाल में संघ के मुखपत्र पांचजन्य में गोहत्या और बीफ खाने के विरोध में कई लेख छपे हैं जिनमें बताया गया कि वेद में गाय की हत्या करने वालों को प्राणदंड देने कहा गया है.
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App