नई दिल्ली. आखिरकार केंद्रीय कर्मचारियों का इंतजार खत्म हो गया है। सरकार ने महंगाई भत्ते को बहाल करते हुए इसे 17 से 28 फीसद कर दिया है। 7th Pay Commission के तहत अब सभी केंद्र सरकार के कर्मचारी और पेंशनर्स को 28 फीसदी की दर से DA और DR का भुगतान होगा। ये सितंबर महीने में भुगतान कर दिया जाएगा। सितंबर की सैलरी में DA का भुगतान 28 फीसदी की दर से होगा और दो महीने का एरियर (जुलाई, अगस्त) भी दिया जाएगा। अब केंद्रीय कर्मचारी अपनी बेसिक पे और ग्रेड के हिसाब से सैलरी में इजाफे का अंदाजा लगा सकते हैं।

कितना मिलेगा सैलरी में फायदा

DA की कुल तीन किस्तों का भुगतान होना है। लेकिन, यह कैसे होगा इसे तय किया जाएगा। महंगाई भत्ता 11 फीसदी बढ़ा है। यह सिर्फ बेसिक सैलरी पर कैलकुलेट होता है। अगर किसी की सैलरी 20000 रुपए है तो 11 फीसदी के हिसाब से महीने में उसके 2200 रुपए बढ़ेंगे।

मान लीजिए किसी की बेसिक सैलरी (न्यूनतम वेतन) 25,000 रुपए है तो उसका DA 25,000 का 28% तक बढ़ जाएगा। मतलब ये कि DA में वृद्धि 25,000 रुपए का 11% यानी कुल 2750 रुपए होगा। इसी तरह बाकी केंद्रीय कर्मचारियों की भी सैलरी 7th CPC Pay Matrix में अलग-अलग होगी। अपनी बेसिक सैलरी को देखकर इसे कैलकुलेट किया जा सकता है।

ऐसे होगा बंपर फायदा

एक सरकारी कर्मचारी जिसकी ग्रेड सैलरी 10,000 रुपए के ब्रैकेट में आती है। यानी वो 144200 से 218200 रुपए की बैसिक पे के दायरे मे आता है। इस कंडीशन में अगर उस कर्मचारी का 1 जनवरी 2020 से जून 2020 तक की डीए की राशि 34608 से 52368 रुपए की बनती है। इसके बाद फिर अगले 6 महीने की किस्त जो 1 जुलाई 2020 से 31 दिसंबर 2020 तक बनती है वो 60564 रुपए से लेकर 91644 रुपए होगी। चूकि डीए अभी तक बकाया है तो फिर अगले 7 महीने का बकाया जो 1 जनवरी 2021 से लेकर 30 जून 2021 तक होता है वो है 95172 रुपए से लेकर 144012 रुपए।

इन छह महीने की इन तीनों किस्त को जोड़ दिया जाए तो यह रकम 1,90,344 रुपए से लेकर 2,88,024 रुपए तक. यानी एक सरकारी कर्मचारी जो इस ब्रैकेट में आ रहा है उसे कुल 18 महीने 2.88 लाख रुपए का लाभ मिल सकेगा।

7th Pay Commission: डेढ़ साल बाद बहाल हुआ सरकारी कर्मचारियों का महंगाई भत्ता, अब 17 से बढ़कर 28 फीसद हुआ डीए

Pakistan Bus Blast: पाकिस्तान में भीषण बम ब्लास्ट, बस में धमाके से 6 चीनी नागरिकों समेत 10 की मौत, 40 गंभीर रूप से जख्मी